Tuesday, Jun 22, 2021
-->
rahul gandhi attack on rss said- rss will not be called sangh parivar pragnt

राहुल गांधी का आरएसएस पर हमला, कहा- 'अब से RSS को संघ परिवार नहीं कहूंगा'

  • Updated on 3/25/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) लगातार भाजपा और आरएसएस पर निशाना साध रहे हैं। इस बार राहुल गांधी ने कहा कि वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) को अब संघ परिवार नहीं कहेंगे। कांग्रेस नेता ने गुरुवार को ट्वीट कर लिखा, 'मेरा मानना है कि आरएसएस और संबंधित संगठन को संघ परिवार कहना सही नहीं है। परिवार में महिलाएं होती हैं, बुजुर्गों के लिए सम्मान होता, करुणा और स्नेह की भावना होती है, जो आरएसएस में नहीं है।' उन्होंने कहा कि अब आरएसएस को संघ परिवार नहीं कहूंगा!'

केरल में बोले बीजेपी विधायक, 90% सारक्षता बन रही है पार्टी की राह में रोड़ा

RSS-भाजपामय हो चुके हैं नीतीश : राहुल
इससे पहले कांग्रेस ने पुलिस को कथित तौर पर बिना वारंट के गिरफ्तारी की विशेष शक्ति देने के प्रावधान वाले एक विधेयक को लेकर बिहार विधानसभा में हुए हंगामे पर बुधवार को कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 'आरएसएस-भाजपामय' हो गए हैं। पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने यह दावा भी किया कि लोकतंत्र का चीरहरण करने वालों को सरकार कहलाने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने ट्वीट किया, 'बिहार विधानसभा की शर्मनाक घटना से साफ है कि मुख्यमंत्री पूरी तरह आरएसएस-भाजपामय हो चुके हैं।'

राज्यसभा ने NCT संशोधन विधेयक को दी मंजूरी, AAP का भारी विरोध

प्रियंका गांधी ने भी बोला हमला
राहुल गांधी ने यह भी कहा कि मंगलवार के घटनाक्रम के लिए नीतीश कुमार को माफी मांगनी चाहिए। कांग्रेस नेता ने यह भी कहा, 'लोकतंत्र का चीरहरण करने वालों को सरकार कहलाने का कोई अधिकार नहीं है। विपक्ष फिर भी जनहित में आवाका उठाता रहेगा- हम नहीं डरते!' दूसरी ओर पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया, 'बिहार में जिस पार्टी को भाजपा ने चुन-चुन कर कमजोर कर दिया वो भाजपाई इशारों पर जन प्रतिनिधियों के साथ निर्मम व्यवहार कर रही है। महिला विधायकों का अपमान किया गया। स्पष्ट है भाजपा, उनके सहयोगी दल लोकतंत्र का आदर नहीं करते।'

कांग्रेस का बिहार विधानसभा हंगामे पर तंज, कहा- RSS- भाजपा मय हो चुके हैं नीतीश

'डर और कायरता' की निशानी है बिहार सरकार- प्रियंका
उन्होंने दावा किया कि यह घटना भाजपा-जदयू सरकार के 'डर और कायरता' की निशानी है। वहीं कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक वीडियो जारी कर दावा किया, 'बिहार की जदयू-भाजपा सरकार ने विधानसभा में जो किया वो भारत के प्रजातंत्र के इतिहास में कभी नहीं हुआ। विधानसभा के अंदर विधायकों को पुलिस द्वारा लात-घूसों से पिटवाया गया। विधायकों पर पथराव किया गया। महिला विधायकों का अनादर किया गया।' उन्होंने कहा, 'प्रजातंत्र की हत्या की गई है। अगर देशवासी नहीं जागे तो लोकतंत्र नहीं बचेगा। गुंडागर्दी और लोकतंत्र की हत्या जदयू-भाजपा का चाल, चरित्र और चेहरा बन गई है।'

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

comments

.
.
.
.
.