Friday, Feb 03, 2023
-->
rahul gandhi boycott parliamentary committee defense affairs targets modi bjp govt rkdsnt

राहुल गांधी ने रक्षा मामलों की संसदीय समिति का किया बहिष्कार, मोदी सरकार पर लगाए आरोप

  • Updated on 12/16/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी के कुछ अन्य सदस्यों ने रक्षा मामले की संसदीय समिति की बैठक से बुधवार को यह आरोप लगाते हुए बहिर्गमन किया कि राष्ट्रीय सुरक्षा के महत्वपूर्ण मुद्दे की बजाय सशस्त्र बलों की वर्दी पर चर्चा में समय बर्बाद किया जा रहा है। 

कांग्रेस ने रसोई गैस की कीमत में बढ़ोतरी को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना 

सूत्रों का कहना है कि राहुल गांधी समिति के समक्ष लद्दाख में चीन की आक्रमकता और सैनिकों को बेहतर उपकरण उपलब्ध कराने से जुड़े मुद्दे उठाने चाहते थे, लेकिन समिति के अध्यक्ष जुएल उरांव (भाजपा) ने उन्हें इसकी अनुमति नहीं दी। 

किसान आंदोलन के बीच नहीं होगा संसद का शीतकालीन सत्र, विपक्ष ने उठाए सवाल

बैठक में मौजूद एक नेता के अनुसार, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत की मौजूदगी में समिति की बैठक में सेना, नौसेना और वायुसेना के कर्मियों के लिए वर्दी के मुद्दे पर चर्चा की जा रही थी और राहुल गांधी ने कहा कि इस पर चर्चा करने के बजाय नेताओं को राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों और लद्दाख में तैनात सशस्त्र बलों को मजबूत करने के बारे में चर्चा करनी चाहिए।

दिल्ली बार्डरों से किसानों को हटाने संबंधी याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से मांगा जवाब

समिति के अध्यक्ष ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष को बोलने की अनुमति नहीं दी, जिसके बाद राहुल गांधी ने बैठक से बहिर्गमन का फैसला किया। इसके बाद समिति की बैठक में शामिल कांग्रेस सांसद राजीव सातव और रेवंत रेड्डी भी उनके साथ बाहर चले गए। 

शुभेंदु अधिकारी ने TMC विधायक पद से दिया इस्तीफा, भाजपा से खफा ममता

सूत्रों ने बताया कि राहुल गांधी का कहना था कि वर्दी के संदर्भ में फैसला सेना से जुड़े लोग करेंगे और नेताओं को इसकी बजाय राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों पर चर्चा करनी चाहिए।

किसान आंदोलन के बीच महंगाई की मार : रसोई गैस सिलेंडर के दामों में फिर इजाफा

 

 

 

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें...

 


 

comments

.
.
.
.
.