Monday, Sep 20, 2021
-->
rahul gandhi congress riding a bicycle bjp said cheap popularity gimmick rkdsnt

ट्रैक्टर के बाद साइकिल पर सवार राहुल गांधी, BJP बोली- सस्ती लोकप्रियता का हथकंडा

  • Updated on 8/3/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मंगलवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर सस्ती लोकप्रियता के लिए ‘‘हथकंडे’’ अपनाने का आरोप लगाया और कहा कि विपक्ष ने संसद की कार्यवाही को बंधक बनाने और सरकार को बदनाम करने के लिए ‘‘हंगामा करने और भाग जाने’’ की रणनीति अपनाई है। 

केंद्रीय मंत्री व राज्यसभा में उपनेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि विपक्षी सदस्य खुद को भाजपा विरोधी समूह के नेता के रूप में पेश करने की होड़ में हैं और इसके लिए सदन की कार्यवाही में बाधा डालने के लिए एक दूसरे से प्रतिद्वंद्विता कर रहे हैं। ज्ञात हो कि पेगासस जासूसी मामले और तीन केंद्रीय कृषि कानूनों सहित विभिन्न मुद्दों पर संसद के दोनों सदनों में लगातार हंगामा कर रहे हैं और इस वजह से कार्यवाही बाधित हो रही है। 

स्पा में विपरीत लिंग के शख्स से मालिश कराने पर रोक, स्वाति मालिवाल ने किया स्वागत

संसद में विपक्षी दलों की रणनीति को धार देने के लिए राहुल गांधी ने आज समान विचारधारा वाले दलों के नेताओं के साथ नाश्ते पर चर्चा की और पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस और खाद्य वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी के विरोध में साइकिल से संसद तक मार्च निकाला। राज्यसभा सदस्य व भाजपा के मीडिया विभाग के प्रभारी अनिल बलूनी ने कहा कि राहुल गांधी कभी ट्रैक्टर चलाकर तो कभी साइकिल से संसद पहुंचकर सस्ती लोकप्रियता के लिए हथकंडे अपना रहे हैं।

टैक्सी ड्राइवर को पीटने के बाद सोशल मीडिया पर ट्रेंड हुआ 'एरेस्ट लखनऊ गर्ल'

 उन्होंने कहा, ‘‘उनके पास कोई वास्तविक मुद्दा नहीं है इसलिए खबरों में बने रहने के लिए इस प्रकार की चीजें करते रहते हैं। पहली बार ऐसा हो रहा है कि सरकार चर्चा कराना चाहती है और विपक्ष इससे भाग रहा है।’’ नकवी ने कहा कि विपक्ष हंगामा करने और फिर भाग जाने की रणनीति पर काम कर रहा है। वह सरकार को बदनाम करने के लिए संसद में कार्यवाही को बाधित कर रहा है। उन्होंने कहा कि मोदी का विरोध करते-करते विपक्ष देश विरोध पर उतर आया है।     

पेगासस मामले पर राहुल ने विपक्षी दलों के साथ बैठक की
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य विपक्षी नेताओं ने पेगासस जासूसी मामले पर मंगलवार को बैठक की जिसमें इस बात पर जोर दिया गया कि इन मुद्दों को लेकर सरकार को घेरने और दबाव बनाने के लिए वे एकजुट होकर साझा रणनीति पर काम करेंगे।  इस बैठक में महंगाई और किसानों के मुद्दों पर भी चर्चा की गई। राहुल गांधी के न्योते पर कई प्रमुख विपक्षी दलों के नेता यहां कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में नाश्ते पर मिले। हालांकि इसमें आमंत्रित पाॢटयों में बहुजन समाज पार्टी और आम आदमी पार्टी ने भाग नहीं भाग लिया। 

अश्लील फिल्म मामला : शर्लिन चोपड़ा के बाद कोर्ट ने अभिनेत्री गहना वशिष्ठ को दिया झटका 
 

बैठक में राहुल गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खडग़े, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, पार्टी के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल, जयराम रमेश एवं कई सांसद, तृणमूल कांग्रेस के नेता कल्याण बनर्जी, समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव, शिवसेना नेता संजय राउत, राजद के मनोज झा, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रफुल्ल पटेल समेत 15 दलों के नेता शामिल हुए। राहुल गांधी ने बैठक में कहा, ‘‘आप लोगों को आमंत्रित करने का एकमात्र मकसद था कि हमें एकजुट होना चाहिए। जितना ही ये आवाज एकजुट होगी, उतना ही शक्तिशाली होगी और भाजपा एवं आरएसएस के लिए इसे दबाना उतना ही मुश्किल होगा।’’  

EVM का इस्तेमाल बंद करने के लिए याचिका खारिज, हाई कोर्ट ने लगाया जुर्माना

उन्होंने इस बात पर जोर दिया, ‘‘हमें एकजुटता की बुनियाद को याद रखना चाहिए।’’ सूत्रों का कहना है कि नाश्ते पर हुई इस बैठक में कुल 17 दलों को न्यौता दिया गया था, लेकिन बसपा और आम आदमी पार्टी के नेता इस बैठक में शामिल नहीं हुए। बैठक के बाद राहुल गांधी और कई अन्य विपक्षी नेता महंगाई का विरोध करते हुए साइकिल से संसद पहुंचे।       कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि विपक्षी नेताओं की बैठक 2024 की एक तस्वीर है।   

पूर्व पुलिस अधिकारी देविंदर सिंह के मुद्दे पर कांग्रेस के बाद PDP ने उठाए सवाल

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘बैठक में सभी दलों ने जो एकजुटता दिखाई, उसके लिए हम उनका धन्यवाद करना चाहते हैं। इस बैठक में बहुत ज्यादा समन्वय और सौहार्द दिखा। जो लोग बांटना और बरगलाना चाहते हैं, उन्हें स्पष्ट संदेश दिया गया है कि पेगासस, महंगाई और किसानों के मुद्दों पर हम एकजुट रहेंगे।’’     


 

comments

.
.
.
.
.