Wednesday, Jun 19, 2019

राहुल गांधी बोले- लोकसभा चुनाव अंबानी और जनता के बीच का मुकाबला

  • Updated on 4/13/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कांग्रेस Congress अध्यक्ष राहुल गांधी Rahul Gandhi ने शनिवार को कहा कि 2019 का लोकसभा चुनाव अनिल अंबानी Anil Ambani और आम लोगों के बीच, चोरों तथा ईमानदारों के बीच तथा झूठे वायदों तथा सच्चाई के बीच का मुकाबला है। उन्होंने यहां एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, 'यह चुनाव अनिल अंबानी Anil Ambani और आम नागरिकों के बीच, पांच साल के अन्याय और न्याय के बीच, चोरों और ईमानदार लोगों के बीच तथा झूठे वादों और सच्चाई के बीच है।'

सिसोदिया बोले- BJP को फायदा पहुंचाने के लिए कांग्रेस ने किया वक्त बर्बाद

कांग्रेस अध्यक्ष Rahul Gandhi ने कहा कि 2019 का चुनाव विचारधाराओं के बीच की भी लड़ाई है जहां एक ओर नफरत, गुस्सा और विभाजनकारी राजनीति है वहीं दूसरी ओर प्यार, स्नेह और भाईचारा है। उन्होंने कहा कि यह लड़ाई हर किसी के सभी के खाते में 15 लाख रुपये जमा करने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'झूठ' और गरीबी रेखा से नीचे रहने वाली महिलाओं के खातों में 3.6 लाख रुपये जमा करने के बीच का है, जिसका कांग्रेस ने वादा किया है।

शत्रुघ्न सिन्हा को है रिकॉर्ड अंतर से पटना साहिब सीट जीतने का भरोसा

प्रधानमंत्री के लिए चौकीदार शब्द के इस्तेमाल पर उपहास करते हुए राहुल गांधी ने यह जानने की कोशिश की कि चौकीदार किसकी चौकीदारी करते हैं। उन्होंने कहा, 'क्या आपने कभी किसी किसान, मजदूर और बेरोजगार के घर के बाहर चौकीदार देखा है? चौकीदार अनिल अंबानी के घर के बाहर पाया जाता है...इस चौकीदार ने 15 से 20 धनी लोगों की रक्षा की।'

सीलिंग: लोगों पर पुलिस का कहर, केजरीवाल ने मोदी पर निकाली भड़ास

राहुल गांधी Rahul Gandhi ने कहा, 'प्रधानमंत्री ने सभी के खाते में 15 लाख रुपये डालने का वादा किया था, लेकिन हत्या के आरोपी अमित शाह ने इसे एक जुमला बताया।' कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वह चौकीदार नहीं बल्कि लोगों की आवाज बनना पसंद करेंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री पर आरोप लगाया कि ऋण का कथित रूप से भुगतान नहीं करने पर किसानों को जेल भेजा गया न कि अनिल अंबानी को।

EVM के बारे में ‘फर्जी खबर’ फैलाने के आरोप में BSP एजेंट के खिलाफ केस दर्ज

राहुल Rahul Gandhi ने कहा कि 2019 में उनकी सरकार के सत्ता में आने के बाद न्याय योजना (न्यूनतम आय गारंटी योजना) को लागू किया जाएगा और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग की महिलाओं के खातों में 72,000 रुपये हर साल जमा किए जाएंगे। इससे पांच करोड़ परिवार लाभान्वित होंगे।  

मेनका गांधी की बढ़ी मुश्किलें, बयान से कांग्रेस खफा, चुनाव आयोग भी सख्त

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.