Thursday, May 06, 2021
-->
rahul gandhi said fishermen want independent ministry not just one department rkdsnt

राहुल गांधी बोले- मछुआरों को स्वतंत्र मंत्रालय चाहिए, सिर्फ एक विभाग से नहीं चलेगा काम

  • Updated on 2/25/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पलटवार करते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि मछुआरों को एक स्वतंत्र मत्स्य पालन मंत्रालय चाहिए, एक मंत्रालय के भीतर केवल एक विभाग नहीं। प्रधानमंत्री ने पुडुचेरी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए गांधी द्वारा पिछले सप्ताह दिये गए उस बयान पर हैरानी जतायी जिसमें उन्होंने कहा था कि कोई ‘‘समर्पित’’ मत्स्य मंत्रालय नहीं है। इससे पहले केंद्रीय मंत्रियों सहित भाजपा नेता भी इस बयान को लेकर गांधी पर निशाना साध चुके हैं। 

‘जय बांग्ला’ बनाम ‘सोनार बांग्ला’ पर तेज हुई बहस, टीएमसी ने भाजपा पर दागे सवाल

प्रधानमंत्री द्वारा किये गए हमले पर पलटवार करते हुए गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘प्रिय प्रधानमंत्री, मछुआरों को एक मंत्रालय के भीतर केवल एक विभाग नहीं बल्कि एक स्वतंत्र और सर्मिपत मत्स्य पालन मंत्रालय की आवश्यकता है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम दो हमारे दो’ से निश्चित तौर पर बुरा लगता है। गांधी उस कटाक्ष का उल्लेख कर रहे थे जिसका इस्तेमाल उन्होंने सरकार के खिलाफ यह आरोप लगाने के लिए किया है कि यह सरकार मोदी और उनके ‘‘कॉरपोरेट दोस्तों’’ द्वारा चलायी जा रही है।’’ 

हरियाणा : नवदीप कौर मामले में सह आरोपी जख्मी : मेडिकल रिपोर्ट

मोदी ने पुडुचेरी में कहा, ‘‘कांग्रेस के नेता कहते हैं कि हम एक मत्स्य पालन मंत्रालय बनाएंगे। मुझे हैरानी हुई। सच्चाई यह है कि यह मौजूदा राजग सरकार है जिसने 2019 में मत्स्य पालन के लिए एक मंत्रालय बनाया था।’’ 2019 में, मोदी सरकार ने मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय बनाया था। गांधी ने एक अन्य ट््वीट में मीडिया की एक खबर को लेकर सरकार पर हमला किया जिसमें दावा किया गया है कि सरकार ने मामले दर मामले के आधार पर चीन से प्रत्यक्ष विदेशी निवेश प्रस्तावों को मंजूरी देनी शुरू कर दी है। 

रसोई गैस के दामों में बढ़ोत्तरी को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार को लिया आड़े हाथ

 

पीएनबी घोटाला : भगोड़ा बिजनेसमैन नीरव मोदी भारत लाया जाएगा

गांधी ने कहा, ‘‘चीन समझ गया है कि श्री मोदी उनके दबाव में झुकते हैं। उन्हें अब यह पता चल गया है कि वे उनसे जो चाहें प्राप्त कर सकते हैं।’’ गांधी ने एक अन्य ट््वीट में रोजगार के मुद्दे पर भी सरकार पर हमला किया और सरकार से युवाओं के लिए रोजगारों का सृजन करने को कहा।

मोदी सरकार ने फिर दिया महंगाई का झटका: रसोई गैस सिलेंडर और हुआ महंगा


कॉर्नेल विश्वविद्यालय के छात्रों को संबोधित करेंगे राहुल 
कांग्रेस नेता राहुल गांधी दो मार्च को प्रतिष्ठित कॉर्नेल विश्वविद्यालय के छात्रों को संबोधित करेंगे और लोकतंत्र और विकास के विषयों पर उनसे संवाद करेंगे। यह जानकारी विश्वविद्यालय की ओर से बृहस्पतिवार को दी गई। पचास वर्षीय गांधी इस आनलाइन कार्यक्रम में प्रोफेसर कौशिक बसु के साथ जुड़ेंगे, जिसमें भारत और दुनिया में राजनीति में जीवन जैसे विषय भी शामिल होंगे। विश्वविद्यालय ने बयान में कहा, ‘‘भारतीय सांसद राहुल गांधी दो मार्च को सुबह 9:30 बजे (भारतीय समायानुसार रात आठ बजे) लोकतंत्र, विकास और राजनीति में जीवन के बारे में संवाद के लिए अर्थशास्त्र के प्रोफेसर कौशिक बसु के साथ शामिल होंगे।’’ 

 

 

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

comments

.
.
.
.
.