Saturday, Jul 31, 2021
-->
rahul gandhi said its ridiculous to debate needs and wants covid vaccine pragnt

राहुल गांधी का केंद्र पर हमला, कहा- 'टीके की जरूरत' वाले बयान को बताया हास्यास्पद

  • Updated on 4/7/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) का संक्रमण तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रहा है। यहां आए दिन 1 लाख से अधिक संख्या में कोरोना के केस सामने आ रहे हैं। इस बीच कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने देश के सभी नागरिकों के लिए कोरोना के टीके की पैरवी करते हुए कहा कि इस टीके की जरूरत को लेकर बहस करना हास्यास्पद है और हर भारतीय सुरक्षित जीवन का मौका पाने का हकदार है।

बढ़ते कोरोना के बीच कांग्रेस ने केंद्र पर लगाया टीकाकरण तैयारियों से संबंधित ये आरोप

हर भारतीय सुरक्षित जीवन का मौका पाने का हकदार- राहुल गांधी
उन्होंने 'कोविड वैक्सीन' हैशटैग से ट्वीट किया, 'जरूरत और मर्जी को लेकर बहस करना हास्यास्पद है। हर भारतीय सुरक्षित जीवन का मौका पाने का हकदार है।' गौरतलब है कि पूरे देश में कोरोना वायरस के खिलाफ चल रहे टीकाकरण अभियान के तहत 45 साल से अधिक उम्र के लोग टीका लगवा सकते हैं।

अब TMC नेता के घर से मिली ईवीएम, भाजपा ने की स्वतंत्र जांच की मांग

लोगों से की कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील
इस बीच, राहुल गांधी ने इंस्टाग्राम पोस्ट में कहा, 'महामारी के खिलाफ लड़ाई में स्वास्थ्यकर्मी हमारे योद्धा हैं। मैं नागरिकों की रक्षा करने की उनकी प्रतिबद्धता, साहस और समर्पण के लिए उनको सलाम करता हूं। मैं त्याग के लिए उनके परिवारों का भी आभार व्यक्त करता हूं।' उन्होंने लोगों का आह्वान किया, 'इस वायरस को नियंत्रित करने के लिए देश के नागरिक के तौर पर हमें अपने हिस्से की भूमिका निभानी होगी। हम मास्क लगाएं और दूसरे सभी प्रोटोकॉल का पालन करें।'

दिल्ली हाईकोर्ट का आदेश- कार में अकेले सफर कर रहे हैं तो भी पहनना होगा मास्क

भारत में एक दिन में 1.15 लाख केस
देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 1.15 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं और ये देश में वैश्विक महामारी फैलने की शुरुआत होने के बाद से संक्रमण के अब तक के सबसे ज्यादा दैनिक मामले हैं। देश में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,28,01,785 हो गयी है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को बताया कि तीन दिन में दूसरी बार ऐसा हुआ है, जब कोराना वायरस संक्रमण के एक दिन में एक लाख से ज्यादा मामले सामने आए हैं। मंत्रालय द्वारा सुबह आठ बजे अद्यतन किए गए आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 1,15,736 मामले सामने आए तथा 630 और मरीजों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 1,66,177 हो गयी।

टीकाकरण के रजिस्ट्रेशन से लेकर सर्टिफिकेट तक हर सवाल का जवाब है यहां, पढ़ें पूरी खबर

4 हफ्ते बाद बेहद खतरनाक स्थिति में देश
देश में लगातार 28वें दिन संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी होने से उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी बढ़कर 8,43,473 हो गयी है जो कि संक्रमण के कुल मामलों का 6.59 प्रतिशत है। वहीं, लोगों के स्वस्थ होने की दर भी गिरकर 92.11 प्रतिशत हो गयी है। देश में उपचाराधीन मरीजों की सबसे कम संख्या 12 फरवरी को थी। देश में 12 फरवरी को यह संख्या 1,35,926 थी जो कि संक्रमण के कुल मामलों का 1.25 प्रतिशत थी।

आंकड़ों के मुताबिक संक्रमण से अब तक 1,17,92,135 लोग ठीक हो चुके हैं जबकि मृत्यु दर गिरकर 1.30 प्रतिशत हो गयी है। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवम्बर को 90 लाख रहे और 19 दिसम्बर को ये मामले एक करोड़ के पार चले गए थे।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.