Monday, Feb 06, 2023
-->
rahul gandhi see jallikattu trolls on social media trended on twitter goback rahul pragnt

'जल्‍लीकट्टू' देखने गए राहुल गांधी सोशल मीडिया पर हुए ट्रोल, Twitter पर ट्रेंड हुआ #Goback_Rahul

  • Updated on 1/14/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पोंगल के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के लिए गुरुवार को तमिलनाडु (Tamil Nadu) के मदुरै पहुंचे। इस दौरान राहुल गांधी तमिलनाडु के पारंपरिक खेल आयोजन 'जल्लीकट्टू' (Jallikattu) के साक्षी बने। वहीं कार्यक्रम में कांग्रेस नेता ने केंद्र के नए कृषि कानूनों (Farm Laws) के खिलाफ चल रहे किसानों के आंदोलन का समर्थन किया। इससे पहले वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने मकर संक्रांति, पोंगल, बिहू, भोगी और उत्तरायण की ट्वीट कर शुभकामनाएं दी।

दुष्कर्म मामले में फंसे उत्तराखंड के भाजपा विधायक नेगी को कोर्ट से मिली फौरी राहत

#Goback_Rahul किया ट्रेंड
वहीं राहुल गांधी के जल्लीकट्टू कार्यक्रम में शामिल होने की वजह से सोशल मीडिया पर उनकी काफी आलोचना हो रही है। सोशल मीडिया पर यूजर्स ने उन्हें ट्रोल करते हुए कहा कि 2016 के कांग्रेस के मेनिफेस्टो में जल्लीकट्टू को बैन करना शामिल था और अब खुद राहुल गांधी इस कार्यक्रम मे शामिल हुए हैं। इतना ही नहीं उन्होंने जल्लीकट्टू कार्यक्रम का समर्थन किया। इसी वजह से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर #Goback_Rahul ट्रेंड कर रहा है।

Rahul Gandhi Jallikattu

मेक इन इंडिया तहत हुआ बड़ा सौदा, वायु सेना के लिए 83 तेजस लड़ाकू विमानों को मिली मंजूरी

क्या है 'जल्लीकट्टू' कार्यक्रम?
पोंगल के मौके पर आयोजित इस कार्यक्रम में राहुल गांधी के साथ द्रमुक की युवा इकाई के सचिव उदयनिधि स्टालिन, कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष केएस अलागिरी और पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी भी मौजूद थे। 'जल्लीकट्टू' तमिलनाडु के ग्रामीण इलाकों का एक परंपरागत खेल है जो पोंगल त्यौहार पर आयोजित किया जाता है। इसमें लोग बैलों को पकड़ने एवं उन्हें काबू करने की कोशिश करते हैं।

ममता के मंत्री की वजह से Vaccine ले जा रहे वाहन को हुई परेशानी, डायवर्ट करना पड़ा रूट

चुनाव में द्रमुक- कांग्रेस के बीच गठबंधन की संभावना
उदयनिधि स्टालिन आयोजन स्थल पर सुबह से ही मौजूद थे और शुरू में वह मंच पर राहुल गांधी और कांग्रेस के दूसरे वरिष्ठ नेताओं के साथ नहीं बैठे थे, हालांकि बाद में वह राहुल गांधी के साथ बैठे जिसके बाद दोनों बातचीत करते देखे गए। इस साल अप्रैल-मई में होने वाले तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में द्रमुक और कांग्रेस के बीच गठबंधन की संभावना है।

पीएम मोदी के करीबी पूर्व IAS अरविंद कुमार शर्मा की यूपी बीजेपी में एंट्री

राहुल के कार्यक्रम को लेकर अलागिरी ने दी थी जानकारी
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अलागिरी ने मंगलवार को कहा था कि राहुल गांधी तमिलनाडु दौरे पर 'जल्लीकट्टू' कार्यक्रम के साक्षी बनकर केंद्रीय कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों को नैतिक समर्थन देंगे। उन्होंने यह भी कहा था कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष इस दौरे पर चुनाव प्रचार के किसी कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे। हाल ही में राहुल गांधी निजी दौरे पर विदेश गए थे और वह पिछले दिनों लौटे हैं। विदेश से लौटने के बाद वह यहां पहली बार किसी सार्वजनिक कार्यक्रम में शामिल हुए। 

पीएम मोदी कर सकते हैं कोविड-19 टीकाकरण अभियान की शुरुआत

किसान-मजदूरों के लिए राहुल ने दी शुभकामनाएं
राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा, 'फसल कटाई का ये मौसम उत्साह और उत्सव का समय होता है। मकर संक्रांति, पोंगल, बिहू, भोगी और उत्तरायण की हार्दिक शुभकामनाएं! किसान-मजदूर भाइयों के लिए विशेष प्रार्थनाएं और शुभकामनाएं जो शक्तिशाली ताकतों के खिलाफ अपने अधिकारों के लिए लड़ रहे हैं।'

PM मोदी ने देशवासियों को मकर संक्रांति, पोंगल, माघ बिहू समेत अन्य सभी त्योहारों की दी बधाई

प्रियंका गांधी ने ट्वीट दी शुभकामनाएं
इससे पहले कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर लिखा, समस्त देशवासियों को मकर संक्रांति, पोंगल, बिहू और भोगी की हार्दिक शुभकामनाएं। फसलों से जुड़े इन त्यौहारों के उल्लास के बीच ईश्वर से मेरी प्रार्थना है कि फसल उगाने वाले अन्नदाताओं को न्याय मिले। बता दें कि तमिलनाडु में इस साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं, ऐसे में नेताओं के लिए पौंगल त्योहार राजनीति का नया केंद्र बनकर सामने आया है। 

शरद पवार की शरण में अभिनेता सोनू सूद, बीएमसी ने अपनाया कड़ा रुख

पीएम मोदी ने दी मकर संक्रांति की बधाई
इसी क्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को मकर संक्रांति की बहुत-बहुत बधाई दी। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'मेरी कामना है कि उत्तरायण सूर्यदेव सभी के जीवन में नई ऊर्जा और नए उत्साह का संचार करें।' पोंगल की शुभकामनाएं देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि यह त्योहार तमिल संस्कृति की सर्वश्रेष्ठ झलक प्रस्तुत करता है।'

ये भी पढ़ें:-

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.