Wednesday, Aug 05, 2020

Live Updates: Unlock 3- Day 5

Last Updated: Wed Aug 05 2020 10:00 AM

corona virus

Total Cases

1,908,751

Recovered

1,282,849

Deaths

39,835

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA457,956
  • TAMIL NADU268,285
  • ANDHRA PRADESH176,333
  • KARNATAKA145,830
  • NEW DELHI139,156
  • UTTAR PRADESH100,310
  • WEST BENGAL80,984
  • TELANGANA68,946
  • GUJARAT65,704
  • BIHAR62,031
  • ASSAM48,162
  • RAJASTHAN46,106
  • HARYANA37,796
  • ODISHA37,681
  • MADHYA PRADESH35,082
  • KERALA27,956
  • JAMMU & KASHMIR22,396
  • PUNJAB18,527
  • JHARKHAND14,070
  • CHHATTISGARH10,202
  • UTTARAKHAND7,800
  • GOA7,075
  • TRIPURA5,520
  • PUDUCHERRY3,982
  • MANIPUR3,018
  • HIMACHAL PRADESH2,879
  • NAGALAND2,405
  • ARUNACHAL PRADESH1,790
  • LADAKH1,534
  • DADRA AND NAGAR HAVELI1,327
  • CHANDIGARH1,206
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS928
  • MEGHALAYA917
  • DAMAN AND DIU694
  • SIKKIM688
  • MIZORAM505
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
rahul priyanka gandhi took command to save rajasthan government and congress party rkdsnt

राहुल-प्रियंका ने संभाली राजस्थान सरकार और पार्टी बचाने की कमान

  • Updated on 7/13/2020

 

नई दिल्ली/शेषमणि शुक्ल। मरुधरा राजस्थान में उठा सियासी तूफान 72 घंटे बाद थम गया है, लेकिन अभी खत्म नहीं हुआ दिखता। अशोक गहलोत सरकार को फिलवक्त मोहलत मिल गई है। सौ के करीब विधायकों ने गहलोत के नेतृत्व में भरोसा जताते हुए प्रस्ताव पारित किया है। लेकिन भाजपा ने फ्लोर टेस्ट की मांग कर गहलोत की चिंता बढ़ा दी है। सरकार और पार्टी में टूटफूट बचाने के लिए कांग्रेस सचिन पायलट की मान मनौव्वल और अपने विधायकों की बाड़ाबंदी में लगी है। सूत्र बता रहे हैं कि प्रियंका गांधी मंगलवार को जयपुर पहुंच सकती हैं।

आठवले बोले- पवार को राजग में आकर BJP के साथ महाराष्ट्र में सरकार बनानी चाहिए


सचिन पायलट की मान-मनौव्वल जारी, समझौता फारमूला दिया
राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट की नाराजगी दूर करने की कोशिशें जारी हैं। कांग्रेस आलाकमान ने पायलट को संदेश भेजा है कि वे पार्टी न छोड़ें। बताया जा रहा है कि बीते 72 घंटे में पार्टी के कई शीर्ष नेता सचिन से संपर्क कर चुके हैं। उन्हें आश्वस्त किया जा रहा है कि वे जयपुर वापस लौटें अपना काम संभाले। उनके सम्मान के साथ-साथ प्रदेश अध्यक्ष और उपमुख्यमंत्री का पद बरकरार रखा जाएगा।

जामिया हिंसा से संबंधित याचिकाओं पर कोर्ट ने दिल्ली पुलिस से मांगा जवाब

इसके अलावा गृह एवं वित्त में से एकाध अतिरिक्त मंत्रालय देने एवं उनके तीन समर्थक विधायकों को मंत्री बनाने के साथ एसओजी की ओर से भेजा गया नोटिस रद्द कराने का समझौता फारमूला दिया है। इसकी पहल अहमद पटेल ने शुरू की, जिसके बाद राहुल गांधी, प्रियंका गांधी, पी चिदंबरम और केसी वेणुगोपाल ने भी सचिन पायलट से संपर्क कर हर मुद्दे के निराकरण का विश्वास दिलाया है। 

कांग्रेस विधायक रिसॉर्ट में पहुंचाए गए, पायलट के संपर्क में कांग्रेस आलाकमान

शीर्ष नेताओं से पायलट की बातचीत का दावा पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने की, लेकिन उन्होंने बातचीत का ब्योरा नहीं दिया। वहीं, पायलट ने कुछ मीडियाकर्मियों से हुई बातचीत में कहा कि हाईकमान स्तर पर उनकी किसी से कोई बात नहीं हुई। उन्होंने यह भी दावा किया कि गहलोत के साथ केवल 84 विधायक हैं, बाकी उनके साथ हैं। उन्होंने गहलोत सरकार को अल्पमत में होने का दावा किया। इस बीच भाजपा ने फ्लोर टेस्ट की मांग कर मुख्यमंत्री गहलोत की चिंता बढ़ा दी है। दूसरी ओर, जयपुर में सोमवार सुबह विधायक दल की बैठक के जरिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शक्ति प्रदर्शन किया, जिसमें 100 के करीब विधायकों के पहुंचने का दावा किया जा रहा है। 

रिलायंस इंडस्ट्रीज की सालाना बैठक में ऑनलाइन जुड़ेंगे एक लाख से ज्यादा इनवेस्टर्स

कुछ रिपोर्टें यह संख्या 106 बता रही हैं। इसमें कई निर्दलीय भी थे। 200 सदस्यों की राज्य विधानसभा में कांग्रेस के 107 के अलावा गहलोत सरकार को 12 निर्दलीय और पांच अन्य दलों के विधायकों का समर्थन है। यानि 124 में से करीब 20 विधायक बैठक में नहीं पहुंचे। सरकार बनाए रखने को 101 विधायकों की जरूरत है। टूट फूट से आशंकित मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बैठक में आए सभी विधायकों को जयपुर के बाहरी इलाके में स्थित एक रिजॉर्ट में लेकर गए हैं, जहां अगले दो-तीन दिन उन्हें वहीं रखने की बात कही जा रही है। इससे यह संकेत मिलते हैं कि कांग्रेस भले ही सरकार बच जाने का दावा कर रही है, लेकिन खतरा अभी खत्म नहीं हुआ है।

अमरनाथ तीर्थयात्रियों संबंधी याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का विचार करने से इंकार


हालांकि, पर्यवेक्षक के तौर पर जयपुर पहुंचे कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रेस कांफ्रेंस में दावा किया कि गहलोत सरकार के पास पूर्ण बहुमत है। उन्होंने कहा कि सरकार अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी। उन्होंने दावा किया कि सचिन पायलट समेत अन्य विधायकों से हाईकमान स्तर पर कई दौर की बातचीत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट सहित अन्य सभी लोगों के लिए कांग्रेस के दरवाजे हमेशा खुले हैं और खुले रहेंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा कितने भी षडयंत्र करे, मोदी सरकार कितने भी प्रपंच रचे, भाजपा कितने भी हथकंडे अपनाये, ईडी, सीबीआई और आईटी कितनी भी छापेमारी करे वे चुनी हुई सरकार को नहीं गिरा पायेंगे क्योंकि यही राजस्थान की जनता का जनमत है।

गहलोत के पक्ष में प्रस्ताव पारित
कांग्रेस विधायक दल ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के समर्थन में प्रस्ताव पारित किया और सोनिया गांधी एवं राहुल गांधी के नेतृत्व में विश्वास जताया है। साथ ही पार्टी को कमजोर करने वाले कार्यों की निंदा की। प्रस्ताव में मांग की गयी है जो भी पदाधिकारी, विधायक इस कार्य में लगे हैं, उनके खिलाफ कड़ी अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए।

पायलट खेमे में 24 विधायक
सूत्रों की मानें तो सचिन पायलट के खेमे में अभी भी करीब 24 विधायक हैं। कहा जा रहा है कि इन विधायकों से सचिन पायलट पहले ही इस्तीफा लेकर अपने पास रख चुके हैं। पायलट समेत ये सभी विधायक दल की बैठक में भी शामिल नहीं हुए। चर्चा है कि पायलट भाजपा में जाने की बजाए अपनी अलग पार्टी बनाने की तैयारी में हैं।


फिर टंगे पायलट के पोस्टर-बैनर
अपनी ही पार्टी और सरकार से बगावत कर चुके राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट का बैनर-पोस्टर सोमवार सुबह प्रदेश कार्यालय से हटा दिया गया था। लेकिन धूप ढलने के साथ ही सियासी हवा में कुछ नरमी छाती दिखी और दोपहर बाद फिर से सचिन के पोस्टर-बैनर, नेम प्लेट प्रदेश कार्यालय में टांग दिए गए।

बीटीपी ने समर्थन वापस लिया
अशोक गहलोत सरकार को समर्थन दे रही भारतीय ट्राइबल पार्टी (बीटीपी) ने अपना समर्थन वापस ले लिया है। पार्टी अध्यक्ष महेश भाई वसावा ने अपने दोनों विधायक, राम प्रसाद डिंडोरे और राजकुमार रोत को निर्देश दिया है कि फ्लोर टेस्ट में न वे भाजपा के पक्ष में वोट करें और न ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत या सचिन पायलट के पक्ष में। बीटीपी ने राज्यसभा चुनाव में गुजरात में भी किसी को वोट नहीं किया था।

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.