railway protection force rpf will be a paramilitary like bsf itbp crpf bjp modi govt green signal

अब BSF और CRPF की तरह होगा रेल सुरक्षा बल (RPF) का दर्जा

  • Updated on 7/10/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय रेलवे की संपत्तियों एवं रेल यात्रियों की सुरक्षा देखने वाला रेल सुरक्षा बल (आरपीएफ) को लम्बी जद्दोजहद के बाद ग्रुप 'ए' अर्धसैनिक बल का दर्जा मिल गया। केंद्र सरकार ने सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ), भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) एवं केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के समकक्ष संगठित समूह 'क' यानी ग्रुप 'ए' का दर्जा दे दिया है। 

गंभीर बाल यौन शोषण मामलों में मौत की सजा का प्रावधान, कानून बनेगा सख्त

इसके साथ ही अब आरपीएफ कर्मियों को अन्य अर्धसैनिक बलों के कर्मियों के समान लाभ मिलेगा।  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की यहां हुई बैठक में मंजूरी दे दी। बैठक के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने पत्रकारों को बताया कि आरपीएफ को संगठित समूह 'क' सेवा का दर्जा प्रदान करने से सेवा में स्थिरता समाप्त होगी, अधिकारियों की कैरियर प्रगति में सुधार होगा और उनका प्रेरणात्मक स्तर कायम रहेगा। 

यमुना जल संरक्षण योजना पर पैनल रिपोर्ट को केजरीवाल कैबिनेट की मंजूरी

आरपीएफ के योग्य अधिकारी लाभान्वित होंगे
  उधर, आरपीएफ बल के सूत्रों के अनुसार आरपीएफ को संगठित समूह 'क' का दर्जा देने तथा कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के 24 अप्रैल 2009 और छह जून 2000 के दिशा-निर्देशों और अनुवर्ती अनुदेशों के अनुसार एक जनवरी 2006 से गैर- क्रियात्मक वित्तीय उन्नयन (एनएफएफयू) के अनुवर्ती लाभ और छह जून 2000 से वरिष्ठ ड्यूटी पद (एसडीपी) का 30 प्रतिशत एनएफएसजी गैर-क्रियात्मक सलेक्शन ग्रेड (एनएफएसजी)देने की मंजूरी दी है।

कठुआ रेप-मर्डर केस : बच्ची के पिता ने हाई कोर्ट का खटखटाया दरवाजा

बता दें कि दिल्ली उच्च न्यायालय ने चार दिसंबर 2012 के आदेश में रेलवे को आरपीएफ को समूह 'क' सेवा का दर्जा प्रदान करने का निर्देश दिया था। उच्चतम न्यायालय ने पांच फरवरी 2019 के आदेश द्वारा इसकी पुष्टि की थी। इसके बाद रेलवे बोर्ड ने आरपीएफ को संगठित समूह 'क' सेवा का दर्जा प्रदान करने का प्रस्ताव किया था। इस मामले में आरपीएफ अधिकारियों ने मिलकर लंबी लड़ाई लड़ी थी।   

कर्नाटक प्रकरण पर बोले अशोक चव्हाण- लोकतंत्र का गला घोंट रही है #BJP

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.