Wednesday, Jun 03, 2020

Live Updates: Unlock- Day 3

Last Updated: Wed Jun 03 2020 10:42 AM

corona virus

Total Cases

207,910

Recovered

100,285

Deaths

5,829

  • INDIA7,843,243
  • MAHARASTRA72,300
  • TAMIL NADU24,586
  • NEW DELHI22,132
  • GUJARAT17,632
  • RAJASTHAN9,373
  • UTTAR PRADESH8,729
  • MADHYA PRADESH8,420
  • WEST BENGAL6,168
  • BIHAR4,096
  • KARNATAKA3,796
  • ANDHRA PRADESH3,791
  • TELANGANA2,891
  • JAMMU & KASHMIR2,718
  • HARYANA2,652
  • PUNJAB2,342
  • ODISHA2,245
  • ASSAM1,562
  • KERALA1,413
  • UTTARAKHAND1,043
  • JHARKHAND722
  • CHHATTISGARH564
  • TRIPURA471
  • HIMACHAL PRADESH345
  • CHANDIGARH301
  • MANIPUR89
  • PUDUCHERRY79
  • GOA79
  • NAGALAND58
  • ANDAMAN AND NICOBAR ISLANDS33
  • MEGHALAYA30
  • ARUNACHAL PRADESH28
  • MIZORAM13
  • DADRA AND NAGAR HAVELI4
  • DAMAN AND DIU2
  • SIKKIM1
Central Helpline Number for CoronaVirus:+91-11-23978046 | Helpline Email Id: ncov2019 @gov.in, ncov219 @gmail.com
railways said  campaign to send migrant laborers will be fast albsnt

रेलवे ने कहा- प्रवासी मजदूरों को भेजने की होगी मुहिम तेज, 10 दिन में कम होने लगेगा दवाब

  • Updated on 5/23/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय रेलवे (Indian Railways) लगातार देश भर में फैले प्रवासी मजदूरों की तकलीफों को कम करने की मुहिम में जुटी हुई है। इसी कड़ी में अब तक लगभग 35 लाख यात्री एक राज्य से दूसरे राज्य तक की दूरी कर चुके है। लेकिन भारतीय रेलवे का यह मिशन अनवरत चलता रहेगा,जब तक कि आखिरी प्रवासी मजदूर अपने घर वापसी नहीं कर लेता है। यह बात आज रेलवे बोर्ड के चेयरमैन विनोद कुमार यादव ने कही है। साथ ही उन्होंने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि अगले 10 दिनों का लक्ष्य 36 लाख लोगों को उनके गंतव्य स्थल तक पहुंचाने का है।

WHO ने भारत को चेताया, कहा- Lockdown में ढील से कई राज्यों में बढ़ा संक्रमण का खतरा

1 मई से दौड़ रही है श्रमिक स्पेशल ट्रेनें

मालूम हो कि 1 मई से देश भर में श्रमिक स्पेशल ट्रेनें दौड़ रही है। इसके लिये अब तक 2600 श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चलायी गई है। दरअसल यह स्पेशल ट्रेनें चलाने से पहले लॉकडाउन की घोषणा के साथ ही प्रवासी मजदूरों ने जमकर अफरा-तफरी की थी। जिसमें दूसरे राज्यों में फंसे इन मजदूरों ने रोजगार छीनने के बाद मकान किराये और भूखे रहने के कारण अपने राज्य जाने की मांग की थी। जिसका नतीजा रहा कि प्रवासी मजदूरों ने दिल्ली के आनंद विहार से लेकर मुंबई,गुजरात,हरियाणा आदि राज्यों में हंगामा खड़ा किया। जिसके बाद केंद्र सरकार ने फैसला करके भारतीय रेलवे को चलाने की हरी झंडी दी।

अब यूपी के मॉल्स में मिल सकेगी शराब लेकिन दाम होंगे डबल!

यात्रियों की सहुलियत के लिये खोले गए कांउटर्स

उन्होंने कहा कि देश भर में यात्रियों को सहूलियत प्रदान करने के लिये टिकट काउंटर्स भी खोले गए है। जबकि पहले IRCTC की वेबसाइट और ऐप से टिकट बुक कराया जा सकता था। जिसमें बदलाव किया गया है। साथ ही जहां पहले 7 दिन पहले ही टिकट बुकिंग करने की इजाजत थी,अब इसे बढ़ाकर 30 दिन पहले कर दिया गया है। यानी अब यात्रा के 30 दिन पहले तक रिजर्वेशन टिकट लिया जा सकता है। रेलवे ने एक अहम फैसले में 1 जून से 200 ट्रेनें चलाने की घोषणा पहले ही कर चुके है। उन्होंने कहा कि सारी एहितियात उठाये जा रहे है,ताकि यात्रा को आरामदायक बनाया जा सकें। लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना बहुत जरुरी है।

 

 


यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.