Thursday, Aug 16, 2018

बेहतरीन पहल: असहाय और उपेक्षित लोगों को अब रेलवे देगी नौकरी

  • Updated on 3/13/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। भारतीय रेलवे ने देश के उन सैकड़ों ऐसे लोगों को खुशखबरी दी है, जिन्हे लोग असहाय समझ कर उपेक्षित कर देते हैं। हम बात कर रहे हैं एसिड अटैक पीडि़तों एवं बौने लोगों की जिन्हें प्राइवेट कंपनियों में भी नौकरियां नहीं मिला करती है। अब भारतीय रेलवे ने इनके लिए अपने द्वार खोले हैं। लिहाजा, रेलवे में निकली 90 हजार नौकरियों में ये लोग भी आवेदन कर सकेंगे। रेलवे भर्ती में आवेदन के लिए तारीख भी सरकार ने बढ़ा दी है। अब 31 मार्च तक आवेदन कर सकते हैं। भारतीय रेलवे ने जिन लोगों को छूट दिया है उनमें एसिड अटैक पीडि़त, कुष्ठरोग बीमारी से ग्रस्त रहे, मांसपेशी दुर्विकास व छोटे कद के युवाओं को दिव्यांग श्रेणी में आरक्षण दिया जाएगा। 

जया बच्चन पर की गई नरेश अग्रवाल की टिप्पणी को सुषमा ने बताया गलत

 जानकारी के मुताबिक नए आदेश से एसिड अटैक पीडि़त भी रेलवे के गु्रप सी व डी के रिक्त पदों पर आवेदन कर सकेंगे। वर्तमान में यह जनरल कोटे में नौकरी के लिए आवेदन करते थे। इसके साथ ही कुष्ठ रोग से पीडि़त रहे लोग (कुष्ठ रोग ठीक होने के बाद) भी रेलवे परीक्षा में शमिल होने का मौका मिलेगा। जिन लोगों की शारीरिक मांसपेशी पूर्ण विकसित नहीं हुई है, वह भी आवेदन कर सकेंगे।

इसके अलावा छोटे कद के युवाओ को भी रेलवे में नौकरी करने का मौका मिलेगा। उक्त चार प्रकार के दिव्यांगों को आरक्षण प्राप्त नहीं था। इसलिए पुरानी व्यवस्था में शारीरिक योग्यता में फिट नहीं होने के कारण वह नौकरी से वंचित रह जाते थे। जानकारी के मुताबिक 90 हजार रिक्त पदों पर आवेदन किए जा रहे हैं। इसकी अंतिम तारीख 12 मार्च थी, इसे बढ़ाकर 31 मार्च कर दिया गया है। जिन दिव्यांगों ने पहले आवेदन कर दिया है वह रेलवे की वेबसाइट पर दिव्यांग प्रणाम पत्र अपलोड कर सकेंगे। इससे वह दिव्यांग आरक्षण श्रेणी में स्वत: आ जाएंगे। 

रेल मंत्रालय के मुताबिक किसी हिंसक आचरण द्वारा एसिड या समरूप करेसिव पदार्थ फेंकने के कारण किसी व्यक्ति का रूप विकृत हो गया हो, उसे भी रेलवे भर्ती बोर्ड अब दिव्यांग अभ्यर्थी के रूप में मानेगा। रेलवे भर्ती बोड्र्स द्वारा केंद्रीय कृत रोजगार सूचना के संदर्भ में निर्दिष्ट दिव्यांगता के संबंध में जारी संशोधित निर्देशों में एसिड अटैक विक्टिम को शारीरिक दिव्यांगता की श्रेणी में रखा गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.