Wednesday, Dec 01, 2021
-->
rain-increases-prices-of-retail-vegetables

बारिश ने बढाए खुदरा सब्जियों के दाम

  • Updated on 9/15/2021

नई दिल्ली। टीम डिजिटल। देश के लगभग सभी राज्यों में होने वाली लगातार बारिश ने जन जीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है। इसका सीधा असर सब्जियों के दामों में भी साफ देखने को मिल रहा है। एक-दो सब्जियों को यदि छोड दिया जाए तो सभी सब्जियों के खुदरा दाम लगभग आसमान छू रहे हैं। जबकि एशिया की सबसे बडी मंडी आजादपुर में अभी भी भाव स्थिर बने हुए है और आवक भी सामान्य बताई जा रही है।
इस साल बारिश से नहीं गिरा बेगमपुर मस्जिद का हिस्सा: एएसआई

पत्तागोभी के दाम में भी आई तेजी
दरअसल बारिश के चलते खुदरा व्यापारियों ने सब्जियों का दाम बढा दिया है। आजादपुर मंडी में जहां आलू के थोक दाम 5 से 18.75 रूपए हैं वहीं खुदरा में 25 से 30 रूपए आलू बेचा जा रहा है। टमाटर के दाम इस समय मंडी में भी औंधे मुंह गिरे पडे हैं। करीब 8-15 रूपए प्रतिकिलो टमाटर मंडी में बिक रहा है, वहीं बाजारों में 25 से 30 टमाटर के दाम हैं। सबसे  अधिक तेजी पत्तागोभी में देखने को मिल रही है। मंडी में 5-25 रूपए प्रतिकिलो में बिक रही पत्तागोभी के दाम खुदरा में 35-40 रूपए प्रतिकिलो हैं। 
विंटर हिल्स की सडक पर हुआ 40 फुट गहरा गडढा, लोगों में भय

हरी सब्जी से कतरा रहे हैं व्यापारी
बारिश के चलते हरी सब्जियां जल्दी ही दागी हो जाती हैं जिसके चलते हरी सब्जियों को खुदरा ही नहीं बल्कि थोक व्यापारी भी मंगवाने से कतरा रहा हैं। आजादपुर मंडी के थोक व्यापारी राजेश कुमार ने कहा कि बारिश के मौसम में सब्जियों को मंडी से बाजार तक पहुंचाने का खर्चा अन्य दिनों के मुकाबले ज्यादा पड जाता है। वहीं नुकसान भी अधिक होता है जिससे हर साल बारिश के मौसम में सब्जियों के दामों में उछाल आता है। करीब 15 दिन बाद खुदरा मूल्यों में गिरावट आनी शुरू हो जाएगी।

जाने क्या हैं थोक दाम

बैंगन        7-25 रूपए प्रतिकिलो
गोभी        10-40 रूपए प्रतिकिलो
गाजर        7-25 रूपए प्रतिकिलो
लौकी        5-10 रूपए प्रतिकिलो
सीताफल    4-12 रूपए प्रतिकिलो
मूली        6.25-17.50 रूपए प्रतिकिलो
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.