Monday, Oct 03, 2022
-->
rajasthan cm ashok gehlot made it clear we have majority not afraid of raids rkdsnt

अशोक गहलोत ने किया साफ- हमारे पास बहुमत, छापों से घबराने वाले नहीं

  • Updated on 7/23/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बृहस्पतिवार को कहा कि राज्य में पड़ रहे केंद्रीय एजेंसियों के छापों से वह घबराने वाले नहीं हैं और न ही उनका मिशन रुकेगा। गहलोत ने कहा कि उनके पास बहुमत है जिसे वे सदन में साबित कर दिखाएंगे। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि आडियो टेप प्रकरण में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह को आगे आगे आकर‘वायस टेस्ट’कराना चाहिए। 

Yes Bank मनी लॉन्ड्रिंग मामले में राजस्थान के कारोबारी रमन कांत शर्मा को तलब

गहलोत ने यहां संवाददाताओं से कहा,‘इन छापों से न हम घबराने वाले हैं ... न हमारा मिशन रुकने वाला हैं। भाजपा की नीतियां व उनका कार्यक्रम हो या सिद्धांत, देश को बर्बाद करने वाले हैं। ये फासीवादी लोग हैं, लोकतंत्र की हत्या कर रहे हैं।‘ उल्लेखनीय है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने हाल ही में अशोक गहलोत के करीबी माने जाने वाले कई लोगों के प्रतिष्ठानों व परिसरों पर छापे मारे हैं। निदेशालय ने बुधवार को गहलोत के बड़े भाई अग्रसेन गहलोत के यहां छापे मारे। 

अमित शाह का निजी सचिव बताकर मंत्रियों को फोन करने वाला युवक गिरफ्तार

गहलोत ने कहा,‘ एक जमाने में छापा पडऩे के बाद पता चलता था कि छापा पड़ गया है। अब हालात यह है कि तीन चार दिन पहले ही शहरों में खबर हो जाती है कि छापे पडऩे वाले हैं। अब उसी रूप में छापे पड़ रहे हैं।‘ उन्होंने कहा,‘ ईडी की कार्रवाई हो, आयकर विभाग की हो या सीबीआई की हो। छह साल से लगातार मैं खुद बोल रहा हूं, पूरा देश बोल रहा है कि जिस प्रकार से कार्रवाइयां शुरू हुई हैं, नरेंद्र मोदी के राज में, अमित शाह के इशारे पर ... सीबीआई ईडी सबको मालूम है इस रूप में काम कर रही हैं। यह कोई नयी बात नहीं है।‘ 

गुजरात सरकार का फीस नहीं लेने के आदेश, प्राइवेट स्कूलों में मची खलबली, ऑनलाइन क्लासेस बंद

मुख्यमंत्री ने कहा,‘ इसका मुकाबला करने का दमखम आज भी केवल कांग्रेस में है। इसमें कोई दो राय नहीं कि कांग्रेस चाहे 54 या 44 पर आ गयी लेकिन जो लोग समझदार हैं चाहे वह भाजपा के हैं या किसी और पार्टी के, वे भी जानते हैं कि कांग्रेस एक मजबूत दल के रूप में है । सरकारें आती हैं, जाती हैं पर कांग्रेस की मजबूती देश की मजबूती है। ये सोच के हम राजनीति कर रहे हैं। उसी मजबूती से कांग्रेस आगे बढ़ रही है।‘ एक अन्य सवाल के जवाब में उन्होंने कहा,’हमारे पास पूरा बहुमत है। उसी बहुमत के आधार पर सदन में जाएंगे और बहुमत साबित करके दिखाएंगे।‘ 

क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी घोटाला : शिकायत में शेखावत की पत्नी का भी नाम

विधानसभा का सत्र बुलाए जाने के बारे में गहलोत ने कहा,‘विधानसभा का सत्र जल्दी ही होगा। बहुमत हमारे साथ में है, पूरे कांग्रेस विधायक एकजुट हैं और कोर्ट में जो लोग गए हैं, जिन्होंने गलती की है, जो भटक गए हैं। वो लोग कोर्ट में गए हैं। गहलोत ने कहा कि अदालत में चल रहे मामले का दल बदल विरोधी कानून से कोई संबंध नहीं है‘हमारे पास पूरा बहुमत भी है, हम एकजुट हैं, तभी यहां बैठे हुए हैं।‘ उन्होंने उम्मीद जताई कि असंतुष्ट सचिन पायलट खेमे के कुछ विधायक भी सदन में उनका साथ देंगे। 

बाबरी विध्वंस मामला : भाजपा नेता जोशी ने दर्ज कराया बयान, आडवाणी की भी होगी पेशी

गहलोत ने कहा,’हमें उम्मीद है कि जिन लोगों को (पायलट खेमे ने) बंधक बना रखा हैं उनमें से कई लोग जब यहां आएंगे तो हमारे साथ वोट करेंगे।‘ सरकार को गिराने के लिए विधायकों की कथित खरीद फरोख्त संबंधी आडियो टेप की विश्वसनीयता को लेकर उठाए जा रहे सवालों पर मुख्यमंत्री ने कहा,‘जब आडियो टेप सही है। हम तो अमेरिकी एफएसएल एजेंसी भेज देंगे वहां भेजकर वायस टेस्ट करवा लेंगे।’इसके साथ ही उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह वायस टेस्ट क्यों नहीं दे रहे। गहलोत ने कहा,’उनको चाहिए कि आगे आकर वायस टेस्ट करवाएं।‘ 

कोरोना संकट में RBI नीतियों को लेकर हैरान-परेशान नजर आए रघुराम राजन

गहलोत ने कहा,’वैसे तो केंद्रीय मंत्री हैं, एमएलए हैं, उनकी वायस टेस्ट हो ही जाती है ... हम लोग इतनी जगह स्पीच देते हैं ... तो सबको मालूम है कि आवाज उनकी है दुनिया मानती है, प्रदेश मानता है, जनता मानती है। फिर भी बचाव करने के लिए पहले यही कहता है कि मेरी आवाज नहीं है। धमकियां भी दे रहे हैं वे लोग लेकिन यह चलेगा नहीं, सच्चाई की जीत होगी। सत्यमेव जयते।‘      कांग्रेस का दावा है कि इस आडियो में एक आवाज शेखावत की है हालांकि वह इससे इनकार कर चुके हैं। 

विकास दुबे एनकाउंटर : गठित जांच आयोग पर पूर्व IAS अफसर ने उठाए सवाल

इस संबंध में मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भी लिखा है, और कहा है कि राज्य में कांग्रेस की निर्वाचित सरकार को गिराने का प्रयास हो रहा है और इस षड्यंत्र में केंद्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत भी शामिल हैं। इस बारे में पूछे जाने पर गहलोत ने कहा,’प्रधानमंत्री जी को चिट्टी मैंने लिखी है... लोकतंत्र है, संघीय ढांचा है। मुझे लगा कि प्रधानमंत्री कल को यह नहीं कह दें कि मुझे जानकारी नहीं थी या मुझे मेरे लोगों द्वारा अधूरी जानकारी दी गयी। कल जब मैं उनसे मिलूं तो मुझे ये नहीं कहें कि भई ये बात तो मुझे मालूम ही नहीं थी। मैंने कहा कि कम से कल को वे यही नहीं कहें मुझे जानकारी मेरी पार्टी ने दी नहीं थी इसलिए ऐसा हो गया। इसलिए यह पत्र लिखा है रिकार्ड में लाने के लिए।‘ 

प्रशांत भूषण के खिलाफ अवमानना कार्यवाही: योगेंद्र यादव बोले- हम देखेंगे!

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा मौजूदा संकट में भी राजनीति से बाज नहीं आ रही है। गहलोत ने कहा,’मोदी जी अच्छे वक्ता हैं ...एक सीमा तक आप जनता को प्रभावित कर सकते हो। चाहे ताली बजवा दी हो ,थाली बजवा दी हो, मोमबत्ती लगवा दी हो लेकिन अंतत: देश समझता है कि कोरोना महामारी है ... खतरनाक महामारी। इसमें केंद्र व राज्य सरकारों को मिलकर उसका मुकाबला करना चाहिए, किया भी और आगे भी करना चाहिए। उससे हटकर आपने मध्य प्रदेश की सरकार गिरा दी। इससे पहले कर्नाटक में कर चुके थे।‘      

उन्होंने कहा कि महामारी से उपजे इस संकट में राजनीति करने वालों को जनता माफ नहीं करेगी। गहलोत ने कहा,‘उसके बीच आप सरकार को गिराने के लिए हमारे कुछ साथियों को गुमराह करके ले जाओ और होर्स ट्रेङ्क्षडग के माध्यम से आप सरकार गिरा दो। जब लोगों के जीवन का संकट हों ... लोग मर रहे हैं 500 लोग राजस्थान में मर चुके हैं, हजारों मर रहे हैं देश में ... उसके बीच आप राजनीति करो, सरकार बदलो... गिराओ ...जनता इनको माफ नहीं करेगी ... न देश की न प्रदेश की।‘ 
 

 

 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.