Monday, Aug 08, 2022
-->
rajasthan cm ashok gehlot says modi bjp govt should cooperate in pegasus investigation rkdsnt

नागरिकों के अधिकारों का सवाल है, पेगासस जांच में सहयोग करे मोदी सरकार: गहलोत

  • Updated on 10/29/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पेगासस जासूसी मामले में उच्चतम न्यायालय द्वारा जांच के फैसले का स्वागत करते हुए शुक्रवार को कहा कि केंद्र सरकार को अब इस जांच में सहयोग करना चाहिए। इसके साथ ही गहलोत ने फिर विश्वास जताया कि राज्य की दो विधानसभा सीटों पर उपचुनाव में कांग्रेस जीत दर्ज करेगी। गहलोत ने बीकानेर के पास लखासर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘पेगासस मामले में उच्चतम न्यायालय का फैसला स्वागत योग्य है। यह बहुत साहसिक निर्णय है और इसमें अदालत ने केंद्र सरकार की धज्जियां उड़ा दी हैं।’’ 

अखिलेश ही नहीं अब शिवपाल यादव भी खोल रहे हैं भाजपा के खिलाफ मोर्चा

गहलोत ने आगे कहा, ‘‘केंद्र सरकार ने शपथ पत्र देने से ही मना कर दिया। ऐसा कभी होता नहीं है। केंद्र सरकार ने कहा कि वह अपनी खुद की समिति बना देगी। तो उच्चतम न्यायालय ने सरकार पर विश्वास नहीं किया। सरकार को लेकर यह कहना ही बहुत बड़ी बात है कि हम आपकी समिति पर विश्वास नहीं कर सकते। सरकार की साख तो उसी दिन समाप्त हो गई जब उच्चतम न्यायालय खुद कह रहा है कि हम आपकी समिति पर विश्वास नहीं कर सकते। हम अपनी समिति बनाएंगे और निगरानी के साथ इसकी पूरी जांच होगी।’’ 

दिवाली से ठीक पहले सरकार ने कर्मचारी भविष्य निधि पर नई ब्याज दर को दी मंजूरी 

गहलोत ने कहा, ‘‘यह हमारे हर नागरिक को संविधान में प्रदत्त अधिकार की रक्षा का सवाल है। अब सरकार को चाहिए कि वह ईमानदारी से सहयोग करे। क्योंकि सरकार का अब तक जो रवैया रहा है वह असहयोगात्मक है, लंबे समय से है।’’ उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय व उसके अन्य विभाग सूचना के अधिकार (आरटीआई) कानून के तहत मांगी गई जानकारी के मामलों में भी आनाकानी करते हैं। गहलोत ने कहा, ‘‘देखते हैं कि इस मामले में सरकार कैसे सहयोग करती है, यह पूरा देश देख रहा है।’’ 

माफी के बाद कांग्रेस और पप्पू यादव के निशाने पर आए पूर्व CAG विनोद राय

भाजपा नेताओं द्वारा विभिन्न मुद्दों को लेकर राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधे जाने पर गहलोत ने कटाक्ष किया, ‘‘वे तो सरकार गिराने के लिए भी हम पर ही हमला करते हैं। पूछें उनसे कि राजस्थान सरकार गिराने के पीछे क्यों पड़े हैं।’’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘राजस्थान सरकार इतना अच्छा शासन दे रही है। प्रधानमंत्री व गृहमंत्री को उसकी तारीफ करनी चाहिए कि राजस्थान अच्छे प्रशासन का एक मॉडल बन गया। उसके बजाए, सरकार गिराने के षड्यंत्र होते हैं तो गृह मंत्रालय में होते हैं, दिल्ली में। उनके मंत्री लोग पहले योजना बनाते हैं, गुडग़ांव में कैंप लगवाते हैं।’’ 

केजरीवाल ने पंजाब के किसानों के लिए किए चुनावी वादे, कहा- AAP सरकार बनी तो ...

उन्होंने कहा, ‘‘ये जो हरकत की गईं उसका हमारी जनता व हमारे विधायकों ने जो करारा जवाब दिया है, गृह मंत्रालय को, गृह मंत्री अमित शाह को, मैं समझता हूं कि वह भी तारीफ के काबिल है।’’     गहलोत ने बढ़ती महंगाई, बेरोजगारी व पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम को लेकर भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ‘‘जो लोग संप्रग सरकार के कार्यकाल में पेट्रोल के दाम 60 रुपये होने पर चिल्लाने लगते थे वे अब इसके 100 रुपये के पार जाने पर भी मौन धारण कर बैठे हैं। उनके पास इसका कोई जवाब नहीं है।’’ 

कांग्रेस के खिलाफ चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर के बयान से भाजपा उत्साहित

गहलोत प्रशासन शहरों/गांवों के संग अभियान के तहत आयोजित शिविर का अवलोकन करने लखासर पहुंचे। उन्होंने कहा, ‘‘प्रशासन शहरों/गांवों के संग अभियान ऐतिहासिक रहेगा। लोगों को अपने काम के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने पड़ते हैं, यह उससे छुटकारा दिलाने का अभियान है। इसमें काम अच्छे हो रहे हैं। उम्मीद करता हूं कि जनता के सहयोग से यह अभियान बहुत कामयाब रहेगा।’’ राजस्थान के वल्लभनगर (उदयपुर) और धरियावद (प्रतापगढ़) विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के बारे में गहलोत ने कहा, ‘‘मुझे पूरा विश्वास है कि हम इन दोनों सीटों पर चुनाव जीतेंगे। भाजपा के नेता जो दावा कर रहे हैं, उसकी पोल खुल जाएगी।’’ इन दोनों सीटों पर शनिवार को मतदान होगा जबकि मतगणना दो नवंबर होगी। 

आर्यन खान को जमानत मिलने के बाद नवाब मलिक बोले- पिक्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.