Sunday, Dec 05, 2021
-->
rajasthan-gdp-nirmala-sitharaman-national-health-mission-health-budget

बजट 2020: स्वास्थ्य क्षेत्र में सुधार के लिए वित्त मंत्री कर सकती हैं बड़ा ऐलान

  • Updated on 1/30/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) सहित देश के कई राज्यों में सरकारी अस्पतालों में अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधाओं की बड़ी कमी के मद्देनजर अगले वित्त वर्ष के बजट में इन अस्पतालों की स्थिति सुधारने की दिशा में बड़ा ऐलान हो सकता है।
प्रकाश जावड़ेकर का प्रदर्शनकारियों पर हमला, बोले- बिना अनुमति कर रहे प्रदर्शन

जीडीपी का 2.5 खर्च की अपील
इसके साथ ही सरकार से सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का 2.5 प्रतिशत स्वास्थ्य पर व्यय करने के वायदे को पूरा करने की अपील की गई है। देश में 75 नए मैडीकल कॉलेज खोलने और मौजूदा मैडीकल कॉलेजों में छात्रों की संख्या में बढ़ौतरी कर चिकित्सकों की कमी दूर करने के निर्णयों के बाद सरकारी अस्पतालों के हालात सुधारना सरकार की प्राथमिकता में है। 
फर्जी कॉल करने वाले कॉलसेंटरों के खिलाफ #USA में केस दर्ज, ज्यादातर #Indiaसे

राज्यों को दी जा सकती है वित्तीय मद्द 
इसके साथ ही राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (National Health Mission) के तहत राज्यों को सरकारी अस्पतालों में चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए वित्तीय मदद भी दी जा रही है।विश्लेषकों का कहना है कि इस बार बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) सरकारी अस्पतालों की स्थिति में सुधार के लिए बड़ी योजना का ऐलान कर सकती हैं।
जामिया यूनिवर्सिटी में पुलिस कार्रवाई के खिलाफ घायल छात्रों ने कोर्ट का किया रुख

आम लोगों को दी जाएगी प्राथमिकता
मोदी सरकार आम लोगों को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करवाने को प्राथमिकता देती रही है और इसके लिए 2 वर्ष पहले 10 करोड़ से अधिक गरीब परिवारों को 5 लाख रुपए तक मुफ्त और कैशलैस उपचार मुहैया करवाने के उद्देश्य से आयुष्मान भारत (Ayushman Bharat) जैसी महत्वाकांक्षी योजना की घोषणा की गई थी। अभी तक इस योजना के तहत 70 लाख से अधिक गरीबों का इलाज हो चुका है। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.