Wednesday, Dec 08, 2021
-->
rajghat ghat dashashwamedh ghat shivala ghat bollywood sonu sood sohsnt

सोनू सूद ने काशी के 220 नाविकों की मदद कर निभाया वादा, मदद पाकर लोगों ने कही ये बात

  • Updated on 9/11/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। देश में कोरोना महामारी के चलते लागू हुआ लॉकडाउन प्रवासी मजदूरों पर कहर बनकर टूटा।लॉकडाउन के दौरान लाखों मजदूरों के सामने रोजी-रोटी का संकट आ गया। उस समय बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद ने मसीहा बनकर लाखों लोगों को न सिर्फ उनके घर पहुंचाया बल्कि उनको रोजगार दिलाने में भी मदद की। सोनू सूद द्वारा की जा रही मदद का सिलसिला आज भी जारी है।

कंगना ने CM ठाकरे पर फिर बोला हमला, कहा- ध्वस्त ऑफिस से ही करूंगी काम

इन दिनों नाविकों की मदद को लेकर चर्चा में हैं सोनू सूद
हाल ही में सोनू काशी के नाविकों की मदद को लेकर चर्चा में बने हुए हैं। सोनू से ट्विटर पर मदद मांगने पर उन्होंने जल्द मदद का आश्वासन दिया था। ऐसे में सोनू द्वारा बीते गुरुवार को भेजी गई राहत सामग्री माझी समाज के अध्यक्ष प्रमोद माझी के पास पहुंची गई है।

गौ मूत्र पीते हैं अक्षय कुमार, Live चैट के दौरान खुद किया खुलासा...

70 जरूरतमंदों के बीच राहत सामग्री के पैकेट बांटे गए
दरअसल, अब इस राहत सामग्री को राजघाट, दशाश्वमेध और शिवाला घाट पर 220 नाविकों के बीच बांट दिया गया है।राजघाट पर गोविंद साहनी व धीरज ने 70 जरूरतमंदों के बीच राहत सामग्री के पैकेट बांटे। जरूरतमंदों ने कहा कि सोनू सूद अभिनेता होने के साथ-साथ सच्चे नायक भी हैं। मालूम हो कि इससे पहले प्रह्लाद घाट के पार्षद मिथिलेश साहनी बच्चा ने सरकार के साथ सामाजिक संस्थाओं से लॉकडाउन की मार झेल रहे काशी के नाविकों की मदद करने के लिए गुहार लगाई थी।

सोनू सूद के नाम पर हो रही है धोखाधड़ी, कहीं आप भी तो नहीं हो रहे इसका शिकार!

सोनू सूद ने ट्वीट कर कहा
दरअसल, कुछ दिन पहले सोनू सूद द्वारा की गई मदद की सराहना करते हुए उन्हें ट्वीट कर कहा गया, 'आपके द्वारा पहुंचायी गई मदद से वाराणसी घाट के नाविक परिवारों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी थी, अभी भी ऐसे बहुत परिवार है जो भूखे सोते हैं। हम हर रोज इंतजार करते हैं कि कब आप उन परिवारों को राशन पहुंचा कर उन के जीवन में खुशियां लेकर आएंगे। इस ट्वीट का जवाब देेते हुए सोनू ने ट्वीट कर कहा, 'वाराणसी के नाविकों के घरों में कल फिर से खुशी की लहर जरूर दौड़ेगी। बस जब कभी भविष्य में घाट पर मैं आऊं तो नाव में घुमा जरूर देना।'

comments

.
.
.
.
.