Wednesday, Jan 26, 2022
-->
rajnath singh inaugurates second lca production line sohsnt

रक्षा मंत्री ने LCA की दूसरी प्रोडक्शन लाइन का किया उद्घाटन, आत्मनिर्भर भारत के लेकर कही ये बात

  • Updated on 2/2/2021

नई दिल्ली/  टीम डिजिटल। देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath singh) ने आज यानी मंगलवार को बेंगलुरु में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स (HAL) की लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) की दूसरी प्रोडक्शन लाइन का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, 'आज के उद्घाटन से आत्मनिर्भर भारत का हमारा संकल्प पूरा हुआ है। इससे ये संदेश दुनिया के दूसरे देशों तक चला जाएगा कि तकनीक और उत्पादन  के क्षेत्र में हम आत्मनिर्भर बनना चाहते हैं और इसके लिए भारत सरकार बहुत गंभीर है।

किसान आंदोलन के बीच गाजीपुर बॉर्डर पुहंचे राउत, कहा- किसानों के साथ ठाकरे सरकार


देश से किया एक वादा हुआ पूरा- राजनाथ सिंह
रक्षा मंत्री ने आत्मनिर्भर भारत अभियान का जिक्र करते हुए कहा कि, एचएएल (HAL) की यह नवनिर्मित निर्माण इकाई (manufacturing unit), भारतीय एयर फोर्स (Indian Air-force) और ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’की मजबूती में एक बड़ा कदम साबित होने वाला है। और संतुष्टि इस बात की, कि इस उद्घाटन के साथ ही, आप लोगों से किया गया मेरा एक वादा भी पूरा हो रहा है।'

'आत्मनिर्भर भारत' चुना गया 2020 का ऑक्सफोर्ड हिंदी शब्द

इतिहास में सबसे बड़ी प्रोक्योरमेंट
उन्होंने कहा, 'कोविड-19 के बावजूद, एचएएल को लगभग 50 हजार करोड़ का एक बड़ा ऑर्डर आर्म्ड फोर्सेज की तरफ से मिला है। यह न केवल अपने आप में, बल्कि स्वदेशी रक्षा खरीद (indigenous defence procurement) के इतिहास में सबसे बड़ी प्रोक्योरमेंट है। यह एक ऐतिहासिक समझौता है, जो इंडियन एयरोस्पेस सेक्टर को नई ऊंचाइयों पर ले जाएगी। उन्होंने कहा, तेजस का नया प्लांट, देश के सामने न केवल स्वदेशीकरण बल्कि कोविड जैसी आपदा में भी अवसर का एक बड़ा उदाहरण प्रस्तुत करता है।

बजट 2021 से खफा विपक्ष, नवाब मलिक ने पूछा- ये देश का बजट है या BJP का घोषणा पत्र

डबल डिजिट में भारत की वृद्धि का अनुमान 
हाल ही में आप लोगों ने देखा होगा, आईएमएफ (IMF) द्वारा कोरोना से पहले इकॉनमी को लेकर जारी की गई लिस्ट में, तमाम बड़े देशों को पीछे छोड़ते हुए भारत एकमात्र ऐसा देश है, जिसकी वृद्धि का अनुमान डबल डिजिट यानी 11.5 फ़ीसदी है। देश में एयरोनॉटिक्स के सेक्टर में एचएएल आजादी के पहले से ही अपनी अहम भूमिका निभा रही है। हमारे देश की सामाजिक आर्थिक प्रगति में, जिन पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग्स का योगदान रहा है, एचएएल का नाम उन में अग्रणी है। उन्होंने कहा, 'कोविड के दौरान भी एचएएल ने अपनी कार्यक्षमता पर कोई असर नहीं पड़ने दिया। अपने इतिहास, और वर्तमान की बड़ी उपलब्धि, दोनों ही दृष्टियों से यह बाकी पीएसयूएस, खासकर डीपीएसयूएस (DPSUs) के लिए अनुकरणीय है।

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.