Saturday, Jul 31, 2021
-->
Rajya Sabha Chairman Venkaiah Naidu accepts resignation Swapna Dasgupta rkdsnt

राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने स्वप्न दासगुप्ता का इस्तीफा किया मंजूर

  • Updated on 3/17/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। राज्यसभा के मनोनीत सदस्य स्वप्न दासगुप्ता का इस्तीफा राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू ने स्वीकार कर लिया है। दासगुप्ता ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में भाजपा उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद मंगलवार को उच्च सदन की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था। इससे पहले तृणमूल सांसद महुआ मोइत्रा ने आरोप लगाया था कि दासगुप्ता ने भारतीय संविधान की 10वीं अनुसूची का उल्लंघन किया है। 

मुंबई पुलिस कमिश्नर के पद से हटाए गए परमबीर सिंह

दासगुप्ता अप्रैल, 2016 में राज्यसभा सदस्य बने थे और पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में भाजपा ने उन्हें तारकेश्वर सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है। सूत्रों ने बताया कि उन्होंने अपना इस्तीफा सौंप दिया और कहा है कि इसे बुधवार से प्रभावी माना जाए। इस्तीफे के बारे में पूछे जाने पर दासगुप्ता ने कहा कि 'मैंने हमेशा कहा है कि नामांकन पत्र (पश्चिम बंगाल चुनाव के लिए) दाखिल करने से पहले जो भी आवश्यक कदम उठाने होंगे, वे उठाए जाएंगे।’’  राज्यसभा सदस्य के रूप में उनका कार्यकाल अप्रैल 2022 तक था। 

कांग्रेस, AAP ने फटी जींस पहनने वाले बयान पर सीएम रावत को लिया आड़े हाथ

तृणमूल सदस्य मोहुआ मोइत्रा ने ट्वीट कर आरोप लगाया था कि दासगुप्ता बंगाल चुनाव में भाजपा के उम्मीदवार हैं। उन्होंने कहा कि संविधान की 10वीं अनुसूची के अनुसार, अगर कोई मनोनीत सदस्य शपथ लेने के छह महीने के बाद किसी राजनीतिक पार्टी में शामिल होते हैं तो उनकी सदस्यता रद्द की जा सकती है। 

हरदीप पुरी ने किया साफ- सेंट्रल विस्टा के लिए एक भी ऐतिहासिक इमारत को नहीं गिराएंगे

मोइत्रा के अनुसार, ‘‘दासगुप्ता ने अप्रैल 2016 को उच्च सदन की सदस्यता की शपथ ली थी... भाजपा में शामिल होने के कारण उन्हें अयोग्य घोषित किया जाना चाहिए।’’ इस बीच दासगुप्ता ने एक ट्वीट कर कहा, ‘‘ मैंने बेहतर बंगाल की लड़ाई में अपने आप को समर्पित करने के लिए राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है।’’

चिदंबरम ने दिया केजरीवाल सरकार का साथ, बोले- संशोधन विधेयक से एलजी बनेगा ‘वायसराय’

 

 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें... 

comments

.
.
.
.
.