Wednesday, Aug 17, 2022
-->
rakesh tikait said farmers mahapanchayat modi will not let government sit quietly rkdsnt

करनाल की किसान महापंचायत में राकेश टिकैत बोले- चैन से नहीं बैठने देंगे मोदी सरकार को

  • Updated on 2/14/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। सरकार के खिलाफ रुख और कड़ा करते हुए भारतीय किसान यूनियन (भाकियू) के नेता राकेश टिकैत ने रविवार को कहा कि जब तक किसानों की मांगें नहीं मान ली जाती हैं तब तक सरकार को चैन से बैठने नहीं देंगे। करनाल जिले की इंद्री अनाज मंडी में किसानों की ‘महापंचायत’ को संबोधित करते हुए टिकैत ने कहा कि केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे 40 नेता पूरे देश में घूम-घूम कर समर्थन मांगेंगे। 

दिनेश त्रिवेदी को लेकर ममता की पार्टी TMC ने मोदी सरकार पर बोला हमला

टिकैत ने कानूनों को वापस लेने की मांग करते हुए कहा, ‘‘जब तक सरकार हमारे पक्ष में फैसला नहीं करती, समिति (प्रदर्शनकारी नेताओं) से बात नहीं करती और हमारी मांगों पर सहमत नहीं होती, तब तक हम उसे चैन से बैठने नहीं देंगे।’’ उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि केंद्र के कृषि कानूनों से ‘‘सार्वजनिक वितरण प्रणाली खत्म हो जाएगी।’’ टिकैत ने कहा कि कानून न केवल किसानों को बल्कि छोटे किसानों, दिहाड़ी मजदूरों और अन्य वर्गों को भी प्रभावित करेगा। 

कांग्रेस बोली- सीतारमण देश की अर्थव्यवस्था के लिए हानिकारक हैं

इन कानूनों को लाने की सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए टिकैत ने कहा, ‘‘ गोदाम पहले बन गए और कानून बाद में आया। क्या किसान नहीं जानते कि ये कानून बड़े कॉरपोरेट के पक्ष में है? इस देश में भूख का कारोबार करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।’’ भाकियू नेता ने दोहराया, ‘‘ पंच और मंच वहीं रहेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘समिति द्वारा जो भी फैसला लिया जाएगा वह सभी को स्वीकार्य होगा। देश के किसान उसके साथ खड़ा है।’’ 

ONGC का शुद्ध लाभ 67 फीसदी लुढ़का, तेल-गैस कीमतों में कमी बनी वजह!

टिकैत के अलावा इस ‘महापंचायत’ में किसान नेता बलबीर सिंह राजेवाल, दर्शन पाल और भाकियू हरियाणा शाखा के प्रमुख गुरनाम सिंह चढूनी भी मौजूद रहे। राजेवाल ने कहा कि किसान महीनों से प्रदर्शन कर रहे हैं लेकिन सरकार उनकी मांग नहीं सुन रही है। पाल ने कहा कि 200 से अधिक किसानों ने प्रदर्शन में अपना बलिदान दिया है और उनकी कुर्बानी बेकार नहीं जाएगी। 

बजट सत्र का पहला चरण खत्म: भाजपा-कांग्रेस के बीच विशेषाधिकार हनन का वार-पलटवार

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

 


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.