Sunday, Feb 28, 2021
-->
rakesh tikait said farmers will go to delhi with 40 lakh tractors sohsnt

किसान आंदोलन: राकेश टिकैत की सरकार को चेतावनी, कहा- 40 लाख ट्रैक्टरों के साथ जाएंगे दिल्ली

  • Updated on 2/18/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। नए कृषि कानूनों (Farm Laws) के विरोध में किसान आज देशभर में रेल रोको आंदोलन कर रहे हैं। ऐसे में देश के अलग-अलग जगहों पर हजारों की तादाद में किसान पटरियों पर बैठे हैं। इस बीच भारतीय किसान यूनियन (BKU) के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत (Rakesh tikait) ने अपनी मांगो को लेकर कहा कि 'केंद्र किसी भी गलत धारणा में न रहे कि किसान फसल की कटाई के लिए वापस अपने घर जाएंगे। यदि वे जोर देते हैं, तो हम अपनी फसलों को भी जला देंगे।'

असम को PM मोदी ने दी सौगात, महाबाहु-ब्रह्मपुत्र प्रोजेक्ट के साथ रखी दो पुलों की आधारशिला

 

गलत धारणा में न रहे केंद्र- राकेश टिकैत
राकेश टिकैट ने हरियाणा के खरक पुनिया में प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि, 'केंद्र किसी भी गलत धारणा में न रहे कि किसान फसल की कटाई के लिए वापस अपने घर जाएंगे। यदि उन्होंने जोर दिया तो हम अपनी फसलों को जला देंगे। उन्हें यह नहीं सोचना चाहिए कि आंदोलन 2 महीने में खत्म हो जाएगा। हम फसल काटने के साथ-साथ विरोध करेंगे।

UP विधानसभा में हुआ जमकर हंगामा, सपा के विधायक गन्ना, टैक्टर, पेट्रोल और डीजल लेकर पहुंचे

अगला लक्ष्य 40 लाख ट्रैक्टरों का- टिकैत
हिसार में राकेश टिकैत ने कहा, अगला लक्ष्य 40 लाख ट्रैक्टरों का है, देशभर में जाकर 40 लाख ट्रैक्टर इकट्ठा करेंगे। ज्यादा समस्या की तो ये ट्रैक्टर भी वहीं हैं, ये किसान भी वही है, ये फिर दिल्ली जाएंगे। इस बार हल क्रांति होगी, जो खेत में औजार इस्तेमाल होते हैं, वे सब जाएंगे।

अंबाला में बड़ी संख्या में पटरियों पर बैठे किसान
बता दें कि केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में जारी किसान आंदोलन आज 85वें दिन में प्रवेश कर गया है। नए कानून के मुद्दे पर अपनी मांगों को लेकर अड़े किसानों का रेल रोको आंदोलन शुरू हो गया है। इस आंदोनल के  तहत अंबाला में बड़ी संख्या में किसान पटरियों पर बैठे। दिल्ली- NCR के आसपास भी किसानों के रेलवे ट्रैक पर उतरने की सूचना है। रेल रोको आंदोलन को देखते हुए दिल्ली मेट्रो ने टिकरी बॉर्डर के आसपास के स्टेशन बंद कर दिए हैं। 

महाराष्ट्र में कोरोना का कहर बरकरार, CM ठाकरे ने बुलाई इमरजेंसी मीटिंग

शाम चार से पांच बजे तक चलेगा आंदोलन
केन्द्र के तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में ‘रेल रोको’ प्रदर्शन के तहत पंजाब और हरियाणा में बृहस्पतिवार को किसान कई जगहों पर ट्रेन की पटरियों के पास एकत्र हो गए हैं। एहतियात के तौर पर अधिकारी ट्रेनों को स्टेशनों पर रोक रहे हैं।किसान आंदोलन के प्रमुख संगठन संयुक्त किसान मोर्चा ने कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग के लिए दबाव बनाने को लेकर 18 फरवरी को दोपहर 12 बजे से शाम चार  से पांच बजे तक ‘रेल रोको’ का आह्वान किया था।

हरियाणा और पंजाब में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
भारतीय किसान यूनियन (एकता उग्रहान) के महासचिव सुखदेव सिंह कोकरीकलां ने बताया कि संगठन के सदस्य पंजाब के नाभा, मनसा, बरनाला, बठिंडा, फिरोजपुर, जालंधर और तरन तारन सहित 22 जगहों पर ट्रेन की पटरियां अवरुद्ध करेंगे। अधिकारियों ने बताया कि हरियाणा और पंजाब दोनों राज्यों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और सरकारी रेलवे पुलिस तथा राज्य पुलिस बल के र्किमयों को तैनात किया गया है। उत्तर रेलवे के फिरोजपुर डिवीजन ने ट्रेनों को स्टेशन पर ही रोकने का फैसला लिया है ताकि यात्रियों को ‘रेल रोको’ आह्वान के कारण परेशानी ना उठानी पड़े। अधिकारियों ने बताया कि किसानों के ‘रेल रोको’ आह्वान के कारण ट्रेनें देरी से चल सकती हैं। उन्होंने बताया कि प्रदर्शन समाप्त होने के बाद सुरक्षा नियमों का पालन करते हुए ट्रेन सेवा पुन:बहाल की जाएगी।

जब महिला ने राहुल गांधी से की शिकायत तो पुडुचेरी के CM ने कहा- मेरी काम की कर रही तारीफ

आह्वान के कारण कोई ट्रेन नहीं हुई रद्द
हरियाणा में रेलवे पुलिस के अलावा राज्य पुलिस के कर्मियों को भी बड़ी संख्या में प्रदर्शन स्थलों और विभिन्न स्टेशनों पर तैनात किया गया है। अंबाला डिवीजन के संभागीय प्रबंधक जी. एम. सिंह ने बताया कि ‘रेल रोको’ आह्वान के कारण कोई ट्रेन रद्द नहीं हुई है। हरियाणा के भिवानी जिले के एक किसान नेता ने बताया कि सिवानी और लोहारू सहित चार जगहों पर जिले में ट्रेन की पटरियां अवरुद्ध की जाएंगी।

अंबाला में किसान अंबाला कैंट स्टेशन से करीब दो किलोमीटर दूर शाहपुर गांव में पटरियों के पास एकत्र हुए। रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि दोपहर 12 बजे से शाम चार बजे के बीच अंबाला कैंट स्टेशन से होकर चार ट्रेनें गुजरने वाली हैं।अंबाला से भारतीय किसान यूनियन के नेता गुलाब सिंह मानकपुर ने कहा कि प्रदर्शन शांतिपूर्ण होंगे। 

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.