Tuesday, Oct 04, 2022
-->
rakesh-tikait-shouted-said-government-should-returns-the-bill-by-october-2-albsnt

चक्का जाम के बाद राकेश टिकैत ने भरी हुंकार,कहा- 2 अक्टूबर तक सरकार करें बिल वापस नहीं तो...

  • Updated on 2/6/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। किसान आंदोलन आज 73 वें दिन प्रवेश कर गया है। इसी कड़ी में आज संयुक्त किसान मोर्चा ने देशव्यापी चक्का जाम किया। जो दोपहर 12 बजे से लेकर 3 बजे तक शांतिपूर्वक जारी रहा। चक्का जाम के समापन के बाद भाकियू नेता राकेश टिकैत ने केंद्र सरकार को 2 अक्टूबर तक का अल्टीमेटम दिया है। उन्होंने कहा तबतक सरकार कृषि कानून को वापस करें। साथ ही MSP पर कानून बनाएं।

टिकैत के बढ़ते कद से योगी असहज! आंदोलन की लहलहाते फसल पर किसकी है नजर?

उन्होंने कहा कि 2 अक्टूर तक यदि सरकार हमारी बात नहीं मानी तो यह आंदोलन देशभर में जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके लिये वे देश भर में भ्रमण करेंगे। सभी राज्यों का दौरा करके किसानों की समस्याओं को रखेंगे। हालांकि उन्होंने साफ किया कि यदि सरकार बातचीत के लिये बुलाएगी तो वे चर्चा के लिये भी तैयार है। उन्होंने कहा कि दरअसल केंद्र सरकार यदि नोटिस भेजकर हम किसानों को डराना चाहती है तो यह नहीं चलेगा। उन्होंने कहा कि सरकार को चटाहिये कि व्यापारियों की कुदृष्टि से हमारी जमीन को बचायें।उन्होंने इस बात पर भी नाराजगी व्यक्त की सरकार को किसानों से ज्यादा व्यापारियों की चिंता है।

सिसोदिया बोले- मोदी सरकार को प्रदर्शनकारी किसानों की मांगें मान लेनी चाहिए

बता दें कि आज बुलाये गए देशव्यापी चक्का जाम से उत्तरप्रदेश,उत्तराखंड और दिल्ली-एनसीआर को बाहर रखा गया। जबकि पंजाब,हरियाणा में आज के चक्का जाम का काफी असर देखने को मिला। वहीं दिल्ली-एनसीआर मेें 26 जनवरी जैसे हालात दोबारा पैदा नहीं हो इसके लिये पूरी छावनी में तब्दील कर दिया गया। राजधानी में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षाकर्मी मौजूद रहें। ताकि किसी भी तरह की अप्रिय घटना नहीं हो सकें। मालूम हो कि केंद्र सरकार और किसान नेताओं के बीच अब तक 11 वें दौर तक की बातचीत हुई है। लेकिन कोई सहमति नहीं बन पाई।  

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.