Wednesday, Apr 08, 2020
ram gopal verma make movie on disha rape murder case

‘दिशा’ बलात्कार व हत्याकांड केस पर फिल्म बनाने जा रहे रामगोपाल वर्मा,पुलिसकर्मियों से ली जानकारी

  • Updated on 2/18/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। प्रख्यात फिल्म निर्देशक राम गोपाल वर्मा ने पिछले साल नवंबर में हैदराबाद में एक महिला पशुचिकित्सक के बलात्कार और हत्या की घटना पर फिल्म बनाने के अपने फैसले की घोषणा की है। इस सिलसिले में वह यहां सोमवार को आरजीआई हवाईअड्डे के पुलिस स्टेशन का दौरा कर अधिकारियों से मिलें और फिल्म बनाने के लिए जानकारियां  की।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि वह एसीपी से मिलना चाहते थे, जो वहां उपलब्ध नहीं थे। वर्मा अन्य अधिकारियों से मिले। उन्होंने समाचार चैनलों से कहा कि वह फिल्म के शोध पहलू को ध्यान में रखकर पुलिस अधिकारियों से मिलने आए हैं। उन्होंने कहा, ‘मेरी अगली फिल्म का नाम ‘दिशा’ है जो दिशा (प्रतीकात्मक नाम) के बलात्कार व हत्या की घटना के बारे में है। गौरतलब है कि इस मामले के आरोपियों को पुलिस ने एक मुठभेड़ में मार गिराया था।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Just generally happy for no particular reason😌

A post shared by RGV (@rgvzoomin) on Dec 27, 2019 at 10:47pm PST

2017 में आई थी आखिरी फिल्म

रामगोपाल वर्मा फिल्म के मामले में सबसे पहले विषय चुनते हैं। हिंदी सिनेमा में उनकी फिल्मों की गिनती काफी अच्छी फिल्मों होती है। वो एक ऐसे निर्देशक है जो फिल्म चुन चुन करबनाते  हैं। आपको बता दें कि उनकी आखिरी फिल्म 2017 में रिलीज हुई फिल्म सरकार 3 थी उसके बाद अभी तक उन्होंने किसी भी फिल्म का निर्देशन नहीं किया। 

आपको बता दें कि हैदराबाद के बहुचर्चित रेप कांड में पकड़े गए चारों अभियुक्तों की पुलिस एनकाउंटर में मौत हो गई है। ये एनकाउंटर हैदराबाद से 50 किलोमीटर दूर महबूब नगर जिले के चटनपल्ली गांव में हुआ। तेलंगाना पुलिस के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) जितेंद्र ने बताया कि शुक्रवार तड़के तीन बजे चारों संदिग्ध लोगों की एक मुठभेड़ में मौत हो गई।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

Share #ramgopalvarma #rgv#nagrgv4

A post shared by Ram gopal varma (@rgvzoomin0) on Dec 30, 2017 at 10:08am PST

दृश्य रीक्रिएट करते वक्त अभियुक्तों ने किया पुलिस पर हमला
इन चारों अभियुक्तों को बुधवार को पुलिस हिरासत में सौंपा गया था। एक पुलिस अधिकारी ने नाम नहीं बताने की शर्त पर बताया कि गुरूवार रात को पुलिस चारों अभियुक्तों को उस जगह ले गई जहां महिला डॉक्टर का जला हुआ शव बरामद किया गया था। वहां घटना का दृश्य रीक्रिएट करते वक्त अभियुक्तों ने पुलिस पर हमला करने की कोशिश की जिसके बाद उन्हें मार गिराया गया।

 

comments

.
.
.
.
.