Saturday, Nov 17, 2018

अठावले बोले- दोषी पाए जाने पर अकबर को दे देना चाहिए इस्तीफा

  • Updated on 10/14/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने रविवार को कहा कि अगर केंद्रीय मंत्री एम जे अकबर के खिलाफ लगे यौन दुराचार के आरोप सच साबित होते हैं तो उन्हें इस्तीफा दे देना चाहिए। एक संवाददाता सम्मेलन में सवालों के जवाब में उन्होंने यह भी चेताया कि ‘मी टू’ अभियान को निराधार आरोप लगाने का मंच न बना लिया जाए। 

शरद यादव ने मुजफ्फरपुर में मोदी सरकार पर निकाली जमकर भड़ास

केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अठावले ने कहा कि अगर अकबर दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें केंद्रीय मंत्री के तौर पर इस्तीफा दे देना चाहिए।  उन्होंने कहा, 'अगर कोई महिला का अपमान कर रहा है तो ऐसे व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। अगर एम जे अकबर एवं नाना पाटेकर जैसी हस्तियां भी दोषी पाई जाएं जो उनके खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए।'

योगी के मंत्री राजभर बोले- भाजपा के 'एजेंट' हैं शिवपाल यादव

मंत्री ने कहा, 'अगर कोई दोषी है, तो उस व्यक्ति को सजा मिलनी चाहिए। लेकिन मुझे ऐसी आशंका है कि इस मंच का इस्तेमाल किसी को झूठे मामले में फंसाने के लिए भी किया जा सकता है। पुलिस को ऐसे आरोपों की पुष्टि करनी चाहिए।' जहां पाटेकर पर अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने 2008 की एक फिल्म शूटिंग के दौरान उनके साथ दुव्र्यवहार करने का आरोप लगाया वहीं पिछले कुछ दिनों में कई महिलाएं अकबर के पत्रकार रहने के दौरान उनके द्वारा किए गए कथित यौन उत्पीडऩ के मामलों के साथ सामने आई हैं। 

AMU के कश्मीरी छात्रों ने लगाया उत्पीड़न का आरोप, दी चेतावनी

इन आरोपों के इतने वर्षों बाद सामने आने के सवाल पर अठावले ने कहा कि अगर सही से जांच की जाए तो अभी भी सबूत मिल सकते हैं। रिपबल्किन पार्टी ऑफ इंडिया (ए) के नेता ने कहा कि ‘मी टू’ अभियान के तहत लगाए गए सभी आरोप गंभीर प्रकृति के नहीं है बल्कि वह अनुचित स्पर्श एवं दुव्र्यवहार से ज्यादा संबंधित हैं।

अकबर के खिलाफ आरोपों पर पीएम मोदी की चुप्पी से हैरान कांग्रेस

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.