Wednesday, Apr 14, 2021
-->
ramdev demanded execution of the killers of ballabgarh murder case sohsnt

Nikita Murder Case: स्वामी रामदेव ने की हत्यारों को चौराहे पर फांसी देने की मांग

  • Updated on 10/30/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। फरीदाबाद के बल्लभढ़ में हुए निकिता तोमर हत्याकांड़ (Nikita Tomar Murder Case) को लेकर लोगों में आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है। ऐसे में अब योग गुरु स्वामी रामदेव (Ramdev) ने लव जिहाद (Love Jihad) के नाम पर देश मे हो रही नृशंस हत्याओं को शर्मनाक बताते हुए बल्लभगढ़ हत्याकांड के आरोपियों के लिए सार्वजनिक रूप से फांसी दिए जाने की सजा की मांग की जिससे ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति को रोका जा सके।

निकिता हत्याकांड: आरोपी तौसिफ के कांग्रेस कनेक्शन पर कुमारी सैलजा ने किया इनकार, सरकार से की ये मांग

दोषियों को चौराहों पर फांसी हो- रामदेव
स्वामी रामदेव ने कहा कि ऐसे जघन्य अपराधों से भारत व भारत माता कलंकित हो रही हैं। उन्होंने कहा कि जब तक दोषियों को चौराहों पर फांसी जैसी सजा नही दी जाएगी,तब तक सरे बाजार होने वाले ऐसे अपराध नही रूक पाएंगे। पतंजलि योगपीठ में एक धार्मिक आयोजन के बाद पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार तथा राज्य सरकारों से लव जिहाद को लेकर कड़े कानून बनाने तथा अपराधियों से सख्ती से निपटने की भी मांग की।

निकिता के न्याय के लिए गांव में की गई पंचायत, दोनों आरोपियों की फांसी की रखी मांग

इस्लामिक गुरूओं और मौलवियों से कही ये बात
उन्होंने इस संबंध में इस्लामिक गुरूओं और मौलवियों से भी लव जिहाद का खिलाफत करने को कहा ताकि समाज मे हो रहे जघन्य अपराधों को रोका जा सके। बता दें कि इस मामले में पुलिस ने अब तक मुख्य आरोपी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। हालांकि घटना के वक्त दो ही आरोपी मौके पर मौजूद थे, लेकिन तीसरे आरोपी अजरुद्दीन ने मुख्य आरोपी तौसिफ को इस घटना को अंजाम देने के लिए हथियार उपलब्ध कराए थे, जिसके चलते उसे नूंह से गिरफ्तार किया गया था। फिलहाल मुख्य आरोपी को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है। 

फरीदाबाद के निकिता मर्डर केस में हुई तीसरी गिरफ्तारी, कई जगह छापेमारी के बाद मिला आरोपी

धर्म परिवर्तन करने का तौसिफ डाल रहा था दबाव
मालूम हो कि छात्रा निकिता तोमर की हत्या आरोपी तौसीफ ने उस समय कर दी जब वो कॉलेज से परीक्षा देकर बाहर निकल रही थी। आरोपी तौसीफ लंबे समय से निकिता पर धर्म परिवर्तन कर शादी करने के लिए दबाव डाल रहा था। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक इससे पहले तौसीफ ने निकिता का अपहरण किया था, जिसके बाद ये मामला थाने में दर्ज हुआ, लेकिन निकिता के माता-पिता ने लोकलाज के भय से पंचायत में इस मामले को वापस ले लिया। जब तौसीफ को लगने लगा कि अब निकिता उसकी बातों में नहीं आएगी, तो उसने दिनदहाड़े निकिता की गोली मारकर हत्या कर दी। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.