Sunday, Nov 27, 2022
-->
Ramzan alvida jumma namaz shahi imam of jama masjid cried KMBSNT

रमजान के आखिरी जुमे में अलविदा की नमाज पर रो पड़े शाही इमाम

  • Updated on 5/23/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना वायरस (Coronavirus) महमारी के चलते इस बार रमजान के मुबारक महीने में लोग मस्जिद में नमाज अता करने नहीं जा सके। वहीं कल यानी शुक्रवार को रमजान (Ramadan) का आखिरी जुमा था, लेकिन जामा मस्जिद (jama masjid) समेत दिल्ली के तमाम मस्जिद कोरोना लॉकडाउन (Lockdown) के कारण खाली पड़े थे। दिल्ली के जामा मस्जिद में शाही इमाम सयैद अहमद बुखारी (syed ahmed bukhari) ने स्टाफ के कुछ लोगों और अपने परिवार वालों के साथ मस्जिद में नमाज पढ़ी। 

शाही इमाम तकरीर के समय भावुक नजर आए। उनको रुमाल से आंसू पोछते देखा गया। ये पहली बार होगा जब रमजान की आखिरी नमाज में मस्जिद इस तरह खाली रहा है। लोगों ने लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हुए घर पर ही नमाज अता की। आम तौर पर ईद से पहले पड़ने वाले रमजान के इस जुमे पर जामा मस्जिद में हजारों की संख्या में लोग नमाज पढ़ने आते थे, लेकिन इस बार बाहर से कोई भी मस्जिद में नमाज पढ़ने नहीं आया। सभी ने लॉकडाउन के नियमों का पालन किया। 

कोरोना के कारण जमानती धाराओं में गिरफ्तार आरोपियों को मिला ये लाभ

दिल्ली पुलिस ने  सुरक्षा की कड़ी
ईद के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा कड़ी कर दी है। सोशल डिस्टेंसिंग के साथ दिल्ली पुलिस अब नमाजियों पर सख्त निगरानी रख रही है। इसी कड़ी में दिल्ली पुलिस सभी थानों से मित्रता मीटिंग कर का आयोजन कर लोगों को समझा रही है। वहीं ड्रोन से भी उन पर नजर रखी जा रही है।

शर्मनाक! आम की रेहड़ी लूटने के लिए लड़कों ने लगाया कोरोना संक्रमण का आरोप

लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के लिए जागरूक करने के आदेश
इस संबंध में दिल्ली पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि सार्वजनिक नमाज पर गृह मंत्रालय के आदेश के तहत मनाही है क्योंकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरूरी है। इसलिए लोगों को समझाया जा रहा है कि ईद के इस त्यौहार को सादगी के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के तहत मनाएं। साथ ही निर्देश भी दिए गए हैं कि सभी थानाध्यक्ष, सहायक पुलिस आयुक्त और पुलिसकर्मी मस्जिदों में जाकर लोगों को सामाजिक दूरी के बारे में समझाएं। 

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें

comments

.
.
.
.
.