Saturday, Jul 21, 2018

2019 के चुनाव से पहले सक्रिय हुआ संघ, सोमनाथ में 3 दिवसीय अहम बैठक

  • Updated on 7/11/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। 2019 के आम चुनावों से पहले जहां भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पूरे देश में पार्टी के लिए वोट बैंक जुटाने में जुटे हैं, वहीं हिंदुत्व विचारधारा को आगे बढ़ाने वाला पार्टी से जुड़ा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ भी अपनी गतिविधियां तेज कर रहा है। इसी कड़ी में संघ की अखिल भारतीय प्रचारकों की बैठक 15 से 17 जुलाई तक गुजरात के सोमनाथ में होने जा रही है। 

अमित शाह के स्वागत में लगे जय श्रीराम के नारे, नीतीश से मुलाकात कल

इस अहम बैठक में संघ शिक्षा वर्ग से जुड़े विषयों, संगठन से जुड़े दायित्वों, उपलब्धियों और कुछ समसामयिक विषयों पर चर्चा का जाएगी। संघ के एक वरिष्ठ प्रचारक का कहना है कि यह संघ के प्रांत प्रचारकों की अखिल भारतीय बैठक है। इमसें पूर्णकालिक प्रचारक ही भाग लेते हैं। इस सम्मेलन का आयोजन हर वर्ष अलग-अलग क्षेत्रों में होता है। इस बार यह आयोजन 15 से 17 जुलाई तक सोमनाथ में हो रहा है।

CIC ने किया साफ- राष्ट्रीय सम्मान देने की प्रोसेस जांच के दायरे से बाहर नहीं

इस बैठक में सरसंघचालक मोहन भागवत, सर कार्यवाह भैय्या जी जोशी, सभी सह सर कार्यवाह, राष्ट्रीय कार्यकारणी के सदस्यों समेत प्रांत प्रचारक एवं वरिष्ठ पदाधिकारी भाग ले रहे हैं। मोहन भागवत का 12 जुलाई को सोमनाथ पहुंचेंगे। वे इस बैठक में स्थानीय कार्यकर्ताओं, स्वयंसेवकों और स्थानीय नागरिकों से मिलेंगे। 

उन्नाव रेप केस : CBI ने दायर की चार्जशीट, BJP MLA सेंगर की बढ़ी मुश्किलें

इस बैठक के मुख्य विषय के बारे में संघ के वरिष्ठ प्रचारक ने बताया कि यह एक नियमित बैठक है। हर साल इसी वक्त इसका आयोजन होता है। उन्होंने कहा कि अभी संघ शिक्षा वर्ग का समापन हुआ है। इस बैठक में संघ शिक्षा वर्ग की उपलब्धियों पर विचार होगा। 

केजरीवाल सरकार ने 1,000 इलेक्ट्रिक बसें चलाने के लिए उठाया बड़ा कदम

इसके अलावा संघ के प्रचारकों को दिए गए कार्यों और इस अवधि में उनकी उपलब्धियों पर भी विचार होगा। उन्होंने जोर दिया कि इस बैठक का 2019 के लोकसभा चुनाव से कोई लेना-देना नहीं है। सूत्रों का कहना है कि बैठक में भैय्याजी जोशी सामाजिक सछ्वाव के विषय पर बैठक को संबोधित कर सकते हैं। 

कांग्रेस ने BJP से पूछा- क्या 'आयुष्मान भारत' भी बन गया है एक 'जुमला'

बता दें कि प्रणब मुखर्जी के बाद संघ ने अपने एक कार्यक्रम में देश के जाने-माने उद्योगपति रतन टाटा को भी न्योता है। इसके लिए टाटा समूह के अध्यक्ष मान भी गए हैं। साफ है कि संघ अपने कार्यक्रम में हर क्षेत्र की हस्तियों के विचार व्यक्त करने का मौका दे रहा है। 

राबिया स्कूल मामले में केजरीवाल सरकार के साथ दिल्ली महिला आयोग भी सक्रिय

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.