Friday, Jan 28, 2022
-->
ration-card-holders-harassed-for-not-running-servers-anger-against-quota-holders

सर्वर ना चलने से राशनकार्डधारी हुए परेशान, कोटाधारकों पर उतारा गुस्सा

  • Updated on 8/27/2021

नई दिल्ली/अनामिका सिंह। दिल्ली में 25 अगस्त को खाद्य एवं आपूर्ति विभाग द्वारा राशन वितरण का आदेश जारी किया गया था। जबकि 1 अगस्त से राशन वितरण प्रारंभ किया जाना चाहिए था। पूरे महीने राशन की दुकानों के चक्कर लगा-लगाकर थक चुके राशनकार्डधारियों का उस समय सब्र जवाब दे गया जब शुक्रवार को सुबह से ही सर्वर डाउन होने की वजह से लोगों को राशन नहीं मिल पा रहा था।
देर से सही आखिर आए एनडीएमसी में सभी सदस्य, हाईकोर्ट ने किया था ताकीद

सुबह 5 बजे से लगती है राशन के लिए लाईनें
उत्तम नगर में एक राशन की दुकान पर राशन लेने आई महिला मंजू देवी ने बताया कि वो बीते 3 दिनों से लगातार राशन लेने दुकान पर आ रही हैं। सुबह 5 बजे से ही वो लाईन में लग जाती हैं।

25 अगस्त को कोटाधारक ने ई-पोस मशीन अपडेट की बात कही। 26 को भी दोपहर 1 बजे के बाद मशीन चालू हुई तो हमारा नंबर नहीं आया। आज सुबह 5 बजे से लाईन में लगे हैं लेकिन दुकानदार सर्वर डाउन होने की बात कह रहा है।
NDMC एरिया में गार्ड नहीं होने से चोरी हुए फव्वारे के नोजल

बुजुर्गों को हो रही है परेशानियां
किराड़ी में राशन लेने आए एक 70 वर्षीय बुजुर्ग लालचंद शर्मा ने कहा कि रोजाना राशन की दुकानों पर धक्के खा-खाकर परेशान हो गए हैं। हमारी उम्र ज्यादा है घर पर कोई राशन लाने वाला नहीं है, कोरोना भी दोबारा से बढ रहा है ऐसे में राशन मिले ना मिले लेकिन बीमार पडना पक्का लग रहा है। सरकार यदि मशीनों से राशन नहीं बंटवाने में सक्षम है तो इसे हटा दिया जाना चाहिए। इससे जनता परेशान हो रही है खासकर उम्रदराज लोग।
राशन दुकान जाने में सक्षम नहीं हैं तो भरें फॉर्म, मदद करेगा विभाग

राजेंद्र नगर में महिलाओं ने किया हंगामा
राजेंद्र नगर में सर्वर डाउन होने की वजह से जब राशन वितरण नहीं कर पाने की मजबूरी राशन दुकानदार ने कार्डधारियों को बताई तो महिलाओं ने उनकी बात को नहीं मानते हुए राशन दुकान के सामने जबरदस्त हंगामा खड़ा कर दिया। महिलाओं का कहना था कि हम अपने बच्चे घर पर अकेले छोड़ राशन लेने रोज आ रहे हैं और रोजाना बहाना बनाकर खाली हाथ लौटा दिया जाता है।
ट्रांसजेंडर्स की मदद के लिए राघव चड्ढा ने शुरू किया 'मिशन सहारा'

कई सर्किल तो पूरी तरह रहे ठप
दिल्ली में कई सर्किल ऐसे भी थे जहां बिल्कुल मशीनों ने काम नहीं किया। जबकि राशन की दुकान पर कार्डधारी लंबी-लंबी कतार में खडे दिखाई दे रहे थे। इन सर्किलों में सर्किल 29, 9, 54, 11, 70, 4, 19, 5, 44, 64, 34, 68, 25, 38, 53, 16, 8, 57, 39, रहीं।
दिल्ली में कोरोना हुआ कम, लेकिन डेंगू पसार रहा पांव

नहीं उठा रहे तकनीशियन फोन
इस बाबत पूछे जाने पर कोटाधारकों ने अपनी मजबूरी जाहिर करते हुए कहा कि यह हमारे स्तर की परेशानी नहीं बल्कि तकनीकी परेशानी है। कई बार विभाग द्वारा दिए गए तकनीशियनों को फोन कर चुके लेकिन वो हमारा फोन नहीं उठा रहे हैं। जिसके चलते कार्डधारी अपना सब्र खो चुके हैं। जिन सर्किलों में एक- दो दुकानों पर मशीनें वर्क कर रही हैं वहां लंबी लाईन है और आपस में ही कार्डधारी राशन लेने के लिए लड़ रहे हैं।
आपराधिक मामलों का सामना कर रहे हैं 363 सांसद, विधायक, दोषसिद्धि से हो जाएंगे अयोग्य: ADR

क्या कहती है यूनियन
दिल्ली सरकारी राशन डीलर्स संघ (डीएसआरडीएस) ने कहा कि दिल्ली में साॅफ्टवेयर से संबंधित परेशानियां आ रही हैं। लगातार विभाग को जानकारी यूनियन की ओर से दी जा रही है। विभाग का कहना है कि तकनीकी परेशानियां धीरे-धीरे दूर होगीं।

हालांकि विभाग भी मामले संज्ञान में लेते हुए कार्रवाई करने में लगा हुआ है। इस बाबत खाद्यमंत्री इमरान हुसैन व खाद्य आयुक्त पद्मिनी सिंगला से कई बार फोन व संदेश के माध्यम से संपर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन खबर लिखे जाने तक कोई जवाब नहीं दिया गया।

comments

.
.
.
.
.