Wednesday, Aug 10, 2022
-->
red chillies entertainments class of 83 is trending number one pragnt

दर्शकों को पसंद आ रही 'क्लास ऑफ 83', स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर #1 पर कर रही है ट्रेंड

  • Updated on 8/28/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। हाल ही में रिलीज हुई 'क्लास ऑफ 83' को बेहद सराहना मिल रही है। एक हफ्ते पहले ओटीटी प्लेटफॉर्म पर लॉन्च के बाद से ही, यह फिल्म भारत में नंबर वन स्थान पर ट्रेंड कर रही है। रोमांचकारी कथानक से लेकर नई प्रतिभाओं को पेश करने तक, रेड चिलीज एंटरटेनमेंट (Red Chillies Entertainment) की फिल्म ने सभी का दिल जीत लिया है।

Ashram Review: धर्म की छतरी के पीछे छिपे बाबाओं की पोल खोलती प्रकाश झा की 'आश्रम'

21 अगस्त को हुई थी रिलीज
21 अगस्त को रिलीज हुई 'क्लास ऑफ 83' पूरे सप्ताह प्लेटफॉर्म पर अपने टॉप ट्रेंडिंग स्पॉट पर कायम रही है। यह एक ड्रामा फिल्म है जो हुसैन जैदी की पुस्तक 'द क्लास ऑफ 83' पर आधारित है और पुलिस अकादमी में डीन विजय सिंह (बॉबी देओल) के रूप में शिफ्ट किए गए एक पुलिसकर्मी की कहानी बताई गई है और प्रशंसक उत्सुकता के साथ फिल्म के रिलीज होने का इंतजार कर रहे थे।

प्रकाश झा के 'आश्रम' में दिखाया जाएगा असली शुद्धिकरण सीन, होगी फूलों की बारिश

दर्शकों को पसंद आ रही है फिल्म
फिल्म में न केवल दर्शकों ने बॉबी देओल (Bobby Deol) और मनोरंजक कहानी पसंद आ रही है, बल्कि शाहरुख खान और रेड चिलीज एंटरटेनमेंट द्वारा पांच नए चेहरे- निनाद महाजनी, भूपेंद्र जादावत, समीर परांजपे, हितेश भोजराज और पृथ्वी प्रताप को लॉन्च करने के लिए भी खूब सरहाया जा रहा है।

Sushant Death case: CBI के बाद एक्शन में NCB, रिया को जल्द भेज सकती है समन

ये है कहानी
रेड चिलीज एंटरटेनमेंट के बैनर तले निर्मित 'क्लास ऑफ 83' में 1980 के दशक से मुंबई पुलिस की कहानी दिखाई जाएगी, जब बॉम्बे में अपराध की संख्या बढ़ गई थी। फिल्म को हुसैन जैदी की 'क्लास ऑफ 83: द पुनिशर्स ऑफ मुंबई पुलिस' से रूपांतरित किया गया है।

सुशांत केस में जांच एजेंसियों से BJP विधायक की अपील, कहा- रिया की हो गिरफ्तारी

ये सितारे आए नजर
यह कहानी बॉबी देओल द्वारा बनाये गए एक ग्रुप और उनके द्वारा किए जाने वाले एनकाउंटर के इर्दगिर्द घूमते हुए नजर आएगी। कलाकारों में अनूप सोनियां, जॉय सेनगुप्ता के साथ परियोजना में मुख्य अभिनेता के रूप में पांच नए कलाकार भी शामिल हैं।

comments

.
.
.
.
.