Wednesday, Feb 19, 2020
Regarding the rising prices of crude oil Pradhan said India is ready to deal with such situations

कच्चा तेल की बढ़ती कीमतों पर प्रधान ने कहा- तरह की परिस्थितियों से निपटने के लिये तैयार है भारत

  • Updated on 1/9/2020

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan) ने बुधवार को कहा कि अमेरिका-ईरान तनाव के कारण कच्चा तेल की वैश्विक कीमतों में आ रही तेजी को देखते हुए भारत हर तरह की परिस्थितियों से निपटने के लिये सभी स्तर पर तैयारियां कर रहा है।

जय पांडा ने BJD को दिया करारा झटका, थामा BJP का दामन, शाह खुश

भारत के लिये अभी संकट जैसी कोई स्थिति नहीं
उन्होंने कहा कि भारत के लिये अभी संकट जैसी कोई स्थिति नहीं है। अमेरिका के एक हवाई हमले में ईरान की सेना के वरिष्ठ अधिकारी कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद ईरान ने प्रत्युत्तर में इराक में स्थित अमैरिकी सैन्य ठिकानों पर मिसाइल से हमले किया।

सोमवार से होगी तेल खंडों की दूसरी नीलामी की शुरुआत  

सभी प्रकार की परिस्थितियों से निपटने की तैयारियां
इसके बाद कच्चा तेल उछलकर तीन महीने के उच्चतम स्तर 72 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। इस विषय पर पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने संवाददाताओं के सवालों के जवाब में कहा, कोई संकट नहीं है। हम सभी प्रकार की परिस्थितियों से निपटने की तैयारियां कर रहे हैं। 

गरीब परिवारों को फ्री में मिलेगा LPG कनेक्शन, उज्ज्वला योजना के विस्तार को मंजूरी

भू-राजनीतिक परिस्थितियों में हुए बदलाव को लेकर भारत की चिंता
हालांकि उन्होंने तैयारियों का ब्योरा नहीं दिया। प्रधान ने कहा कि विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कच्चा तेल आपूर्ति करने वाले मुख्य देशों के विदेश मंत्रियों से बातें की हैं और पिछले सप्ताह से भू-राजनीतिक परिस्थितियों में हुए बदलाव को लेकर भारत की चिंताओं से उन्हें अवगत कराया है।  

6 पैसे बढ़े पेट्रोल के दाम, जानें आज की कीमतें

पश्चिमी एशिया में बदल रही परिस्थितियों के विभिन्न आयाम व पहलु हैं
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री कार्यालय, पेट्रोलियम मंत्रालय, विदेश विभाग सभी का इस पर ध्यान है । उन्होंने कहा, हम सभी परिस्थितियों पर निगाहें रखे हुए हैं। प्रधान ने कहा कि पश्चिमी एशिया में बदल रही परिस्थितियों के विभिन्न आयाम व पहलु हैं। उन्होंने कहा, भारत कच्चा तेल का एक प्रमुख उपभोक्ता है और हम गतिविधियों पर कड़ी निगाहें रखे हुए हैं।

comments

.
.
.
.
.