Friday, Feb 26, 2021
-->
republic day: security tightens in punjab, haryana before farmers tractor parade rkdsnt

गणतंत्र दिवस : किसान ट्रैक्टर परेड से पहले पंजाब, हरियाणा में सुरक्षा कड़ी

  • Updated on 1/25/2021


नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। गणतंत्र दिवस समारोह और मंगलवार को होने वाली किसानों की ट्रैक्टर परेड के मद्देनजर पंजाब एवं हरियाणा में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। साथ ही दिल्ली से सटे जिलों में अतिरिक्त बलों की तैनाती की गई है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि पंजाब और हरियाणा में संवेदनशील स्थानों पर बम निरोधक एवं खोजी कुत्तों के दस्तों की सेवाएं ली जा रही हैं और दोनों ही राज्यों में प्रवेश करने वाले वाहनों की चेकिंग की जा रही है। 

किसान नेता गणतंत्र दिवस के बाद और तेज करेंगे आंदोलन, बजट के दिन संसद की ओर कूच

पंजाब के राज्यपाल एवं चंडीगढ़ प्रशासक वीपी सिंह बदनौर मोहाली में एक राज्य स्तरीय कार्यक्रम के दौरान तिरंगा फहराएंगे। वहीं, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पटियाला में राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे। अधिकारियों ने कहा कि कोविड-19 महामारी के चलते गणतंत्र दिवस कार्यक्रमों के दौरान भारी भीड़ एकत्र होने की अनुमति नहीं होगी।     

किसान संसद' में किसानों ने सरकार को चेताया- नहीं होने देंगे एक भी किसान की कुर्की

इस बीच, हरियाणा सरकार ने तिरंगा फहराने वाले शीर्ष गणमान्य व्यक्तियों की संशोधित सूची सोमवार को जारी की। एक आधिकारिक बयान के मुताबिक, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पंचकूला में तिरंगा फहराएंगे। पहले यह कार्यक्रम पानीपत में निर्धारित किया गया था। हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य राजभवन में राष्ट्रीय ध्वज फहराएंगे। 

अमरिंदर सिंह ने की ट्रैक्टर परेड पर अपील
दिल्ली में मंगलवार को होने वाली किसानों की ट्रैक्टर परेड से पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सोमवार को किसानों से शांतिपूर्ण रैली निकालने की अपील की। किसान नेताओं ने कहा है कि वह गणतंत्र दिवस के अवसर पर ट्रैक्टर परेड निकालेंगे। दिल्ली पुलिस ने रविवार को कहा था कि किसानों की प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड गणतंत्र दिवस समारोह का समय समाप्त होने के बाद शुरू होगी। सिंह ने किसानों की ट्रैक्टर परेड को भारतीय गणतंत्र और इसके संवैधानिक मूल्यों का उत्सव करार दिया है। 

बजट से पहले कांग्रेस हमलावर, कहा- PM मोदी की गलत नीतियों से बढ़ी आर्थिक असमानता

मुख्यमंत्री ने गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर अपने संदेश में कहा, ‘‘इन महीनों में आपका (किसान) आंदोलन शांतिपूर्ण रहा यही इसकी पहचान है और आने वाले दिनों में भी ऐसा ही होना चाहिए। राष्ट्रीय राजधानी में गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली भी शांतिपूर्ण होनी चाहिए।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कल आपके ट्रैक्टरों का ²श्य यह रेखांकित करेगा कि भारतीय संविधान और हमारे गणतंत्र का सारभूत तत्व अलग नहीं किया जा सकता।’’ उन्होंने कहा कि किसानों का ‘‘अदम्य संघर्ष’ लोगों को हमेशा सच की याद दिलाएगा। केंद्र पर निशाना साधते हुए सिंह ने आरोप लगाया कि मौजूदा सरकार के दौरान संघीय ढांचा सबसे बड़े ‘खतरे’ को झेल रहा है।     

किसान आंदोलन की जीत निश्चित है: हुड्डा 
हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सोमवार को कहा कि केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर किसानों की जीत निश्चित है। साथ ही उन्होंने किसानों से मंगलवार को गणतंत्र दिवस के मौके पर दिल्ली में होने वाली ट्रैक्टर परेड शांतिपूर्वक निकाले जाने का आह्वान किया। 

शाह के नाम पर हो सकता है अयोध्या में मस्जिद का नाम

हरियाणा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हुड्डा ने एक बयान में कहा,‘’किसान आंदोलन की जीत निश्चित है क्योंकि उनका आंदोलन शांतिपूर्ण एवं अनुशासित है।‘‘     गणतंत्र दिवस की पूर्वसंध्या पर लोगों को बधाई देते हुए उन्होंने कहा कि देश की नींव समानता एवं न्याय पर आधारित है और‘‘लोकतंत्र में लोगों की इच्छा ही सर्वोपरि है।‘‘ उन्होंने इतने विशाल एवं शांतिपूर्ण आंदोलन के संचालन को लेकर किसान नेताओं की सराहना भी की। 

राहुल बोले- पीएम मोदी के जरिए अर्नब को मिली थी बालाकोट एयर स्ट्राइक की जानकारी

हुड्डा ने कहा, ‘’दो महीने से भी अधिक समय से हजारों किसान दिल्ली की सीमाओं पर तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में धरना-प्रदर्शन कर रहे हैं। लोकतंत्र में, अनुशासन एवं अहिंसा किसी भी आंदोलन के सबसे बड़े हथियार हैं। जिसे किसानों ने बेहद अच्छी तरह से समझा है।‘‘ उन्होंने आंदोलन के दौरान विभिन्न कारणों से जान गंवाने वाले करीब 150 किसानों का हवाला देते हुए सरकार की आलोचना भी की।

 

 

यहां पढ़ें अन्य बड़ी खबरें...

 

comments

.
.
.
.
.