Friday, Sep 30, 2022
-->
retail inflation reduced due to cheaper oil, 12.3% growth in industrial production

तेल सस्ते होने से घटी खुदरा मुद्रास्फीति, औद्योगिक उत्पादन में 12.3 % की वृद्धि

  • Updated on 8/13/2022

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। सब्जी, खाद्य तेल जैसे खाद्य उत्पादों के सस्ता होने से खुदरा मुद्रास्फीति जुलाई में नरम होकर 6.71 प्रतिशत पर आ गई। हालांकि यह अभी भी रिजर्व बैंक के संतोषजनक स्तर की उच्च सीमा 6.0 प्रतिशत से ऊपर बनी हुई है।

सब्जी और खाद्य तेल तथा अन्य जिंसों के दामों में गिरावट आने के बावजूद खुदरा मुद्रास्फीति ऊंचे स्तर पर बनी हुई है। ऐसी स्थिति में आरबीआई सितम्बर के अंत में प्रस्तावित मौद्रिक नीति समीक्षा में नीतिगत दर में एक और वृद्धि कर सकता है। शुक्रवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, जून 2022 में महंगाई दर 7.01 प्रतिशत जबकि जुलाई 2021 में 5.59 प्रतिशत थी। खाद्य मुद्रास्फीति भी जुलाई महीने में नरम पड़कर 6.75 प्रतिशत पर पहुंच गई जबकि जून में यह 7.75 प्रतिशत थी। 

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के शुक्रवार को जारी आंकड़ों के अनुसार जुलाई में खाद्य महंगाई दर नरम होकर 6.75 प्रतिशत रही जो जून महीने में 7.75 प्रतिशत थी। उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित खुदरा मुद्रास्फीति अभी भी रिजर्व बैंक के संतोषजनक स्तर की उच्च सीमा से ऊपर बनी हुई है। यह लगातार सातवां महीना है जब खुदरा मुद्रास्फीति छह प्रतिशत से ऊपर है। रिजर्व बैंक को खुदरा मुद्रास्फीति दो प्रतिशत घट-बढ़ के साथ चार प्रतिशत पर बरकरार रखने की जिम्मेदारी मिली हुई है। 

आंकड़ों के अनुसार जुलाई में खुदरा महंगाई में नरमी आने का मुख्य कारण सब्जी और खाद्य तेल के दामों में कमी है। ईंधन और बिजली के संदर्भ में कीमतें ऊंची बनी हुई है।  


12.3 त्न की वृद्धि औद्योगिक उत्पादन में


विनिर्माण, बिजली और खनन जैसे क्षेत्रों में मजबूत प्रदर्शन के साथ देश का औद्योगिक उत्पादन (आईआईपी) जून में 12.3 प्रतिशत बढ़ गया। शुक्रवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, यह लगातार दूसरा महीना है जब औद्योगिक उत्पादन में दोहरे अंकों में वृद्धि हुई है। इस साल जून के दौरान औद्योगिक उत्पादन में वृद्धि मई 2022 की तुलना में कम है। मई में आईआईपी 19.6 प्रतिशत बढ़ा था जबकि अप्रैल में इसमें 6.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। सांख्यिकी और कार्यक्रम क्रियान्वयन मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, विनिर्माण क्षेत्र में इस साल जून में 12.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई। पिछले साल इसी महीने में यह 13.2 प्रतिशत बढ़ा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.