Friday, Jan 28, 2022
-->
rishi-kapoor-passed-away-irfan-khan-talk-about-rishi-kapoor-prsgnt

इरफान खान ने ऋषि कपूर को लेकर कभी कही थी ये बात, आज बन गई यादगार

  • Updated on 4/30/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। बॉलीवुड ने अचानक अपने दो दिग्गज अभिनेताओं को खो दिया। दोनों ही ऐसे एक्टर थे जिनके अभिनय की मिसालें दी जाती थीं। वो थे इरफान खान और ऋषि कपूर।  

बुधवार यानी 29 अप्रैल को इरफान खान ने इस दुनिया को अलविदा कहा और आज यानी गुरूवार 30 अप्रैल को ऋषि कपूर का निधन हो गया। दोनों ही कैंसर के मरीज थे। ऋषि कपूर बीते साल ही कैंसर का इलाज करा कर लौटे थे। इन्हें चाहने वाले यकीन ही नहीं कर पा रहे हैं कि अचानक दोनों बस यूंही दुनिया से चले गये।

ऋषि कपूर के निधन से सदमें में पूरा बॉलीवुड, महानायक ने कहा- मैं बर्बाद हो गया

दोनों ने किया था साथ काम
दोनों ने एक ही फिल्म में साथ काम किया था। निखिल आडवानी के निर्देशन में बनी ये फिल्म थी ‘डी डे’। यह फिल्म 2013 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म में इरफान खान ने रॉ एजेंट की भूमिका निभाई थी जबकि ऋषि कपूर ने अंडरवर्ल्ड डॉन की भूमिका अदा की थी।

इस फिल्म को लेकर इरफ़ान खान का एक इंटरव्यू भी हुआ था जिसमें उन्होंने ऋषि कपूर के साथ काम करने को लेकर अपने दिल की बात कही थी। इरफान ने कहा था कि उनके साथ काम करना किसी सपने से कम नहीं था। इरफान ने बताते थे कि शूटिंग के खत्म होने के बाद हम सभी ऋषि कपूर को घेर कर बैठ जाया करते थे। उनके पास सबको सुनाने के लिए बड़ी कहानियां होती थीं। ऋषि कपूर सबका खूब मनोरंजन किया करते थे।

ऋषि कपूर की मौत से स्तब्ध हुए केजरीवाल, कहा ये भयानक नुकसान है...

इरफान ने की तारीफ
इरफान ने बताया कि ऋषि कपूर एक असाधारण व्यक्ति और कलाकार हैं। उनके साथ काम करना किसी सपने के पूरे होना जैसा है, ऐसा सपना जिसके पूरा होने के बारे में कभी सोचा भी नहीं था। मुझे उनके साथ काम करके बहुत अच्छा लगा।  

आज जब ये दोनों कलाकार इस दुनिया में नहीं है तब उनकी बातें और एक दूसरे के लिए की गई उनकी बातें बेहद याद आती है। आज हम इन दोनों अभिनेताओं को खो चुके हैं,इस वक्त इरफ़ान की कही ऋषि कपूर के लिए खास बातें काफी महत्वपूर्ण है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.