Monday, Aug 08, 2022
-->
risk should not be taken by relaxing the rules ex cm said on kumbh albsnt

नियमों में ढील देकर नहीं लेना चाहिए जोखिम, कुंभ में आने वाले यात्रियों को छूट पर बोले पूर्व सीएम

  • Updated on 3/15/2021

हरिद्वार/ब्यूरो। हरिद्वार कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं को छूट देने संबंधी बयान से पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सहमत नहीं है। त्रिवेंद्र ने कहा कि कोरोना दोबारा तेजी से फैल रहा है।ऐसे में सरकार को कोई जोखिम नहीं लेना चाहिए।

उत्तराखंड की नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश की तबियत बिगड़ी, एम्स में भर्ती

पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत सोमवार को हरिद्वार के हरिहर आश्रम पहुंचे थे। यहां पर उन्होंने पूजा अर्चना की। इसके बाद पत्रकारों से बात करते हुए त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि पहले तीन राज्यों में कोरोना की चिंताजनक स्थिति थी। अब 7 राज्यों में स्थिति चिंताजनक हो चुकी है।उन्होंने कहा कि हम सबकी जिम्मेदारी है कि इसे रोका जाए। यह ठीक है कि टीकाकरण हो रहा है लेकिन टीके का असर भी 42 दिन बाद दिखना शुरू होगा। अभी लोग भी इतने अवेयर नहीं है। अभी भी लोग टीका लगवाने नहीं आ रहे हैं। हमें देखना होगा कि कैसे कोरोना से अपने राज्य को बचाना है।

सरकार के चार वर्षीय जश्न पर लगी रोक, त्रिवेन्द्र के एक और फैसले को नए सीएम ने पलटा

उन्होंने कहा कि कुंभ केवल राज्य का नहीं बल्कि  पूरे देश और दुनिया का है। इसलिए ऐसा कोई जोखिम नहीं लेना चाहिए जिससे बीमारी फैले। कोरोना को लेकर  स्थिति चिंताजनक बनती जा रही है। विशेषज्ञों ने भी इस पर चिंता जाहिर की है।गौरतलब है कि एक दिन पहले ही हरिद्वार में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा था कि कुंभ में श्रद्धालुओं के आने जाने को लेकर कोई रोक टोक नहीं होगी।  इसके साथ ही बसों की संख्या बढ़ाने तथा विशेष ट्रेनें चलाने के लिए केंद्र सरकार से बात करने की बात भी कही थी। मुख्यमंत्री ने हरिद्वार आने के लिए कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट लाने की अनिवार्यता को खत्म करने की घोषणा भी की थी।  एक तरह से मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने त्रिवेंद्र सरकार के फैसले को पलट दिया है।

यहां पढ़े अन्य बड़ी खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.