Monday, Jun 27, 2022
-->
riyanka gandhi vadra attack yogi government coronavirus cases in up pragnt

प्रियंका गांधी ने UP सरकार को घेरा, पूछा- अगर कोरोना के केस नहीं बढ़ रहे तो मृत्युदर ज्यादा क्यों?

  • Updated on 6/24/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश भर में कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। वहीं उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की योगी सरकार (Yogi Government) का कहना है कि राज्य में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी दर्ज की गई है। ऐसे में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने यूपी के चार जिलों के कोरोना से सर्वाधिक मृत्यु दर वाले देश के 15 जनपदों में शामिल होने का दावा करते हुए बुधवार को सवाल किया कि अगर मामले नहीं बढ़ रहे हैं तो फिर मृत्यु दर इतनी ज्यादा क्यों है।

आइसीएमआर का निर्देश, लक्षण वाले लोगों के लिए अनिवार्य होगी कोरोना टेस्टिंग

प्रियंका ने किया ट्वीट
उन्होंने ट्वीट किया, 'कोरोना से सबसे अधिक मृत्युदर वाले 15 जिलों में 4 जिले उत्तर प्रदेश के हैं। झांसी में हर 10 कोरोना पीड़ित में एक की मौत हुई। मेरठ में हर 11 में से एक कोरोना पीड़ित की मौत हुई तथा आगरा और एटा में हर 14 कोरोना पीड़ित में एक की मौत हुई है।' प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने कोरोना के मामले में सबसे अधिक मृत्युदर वाले जिलों का एक ग्राफ भी शेयर किया। कांग्रेस महासचिव ने सवाल किया, 'सोचने वाली बात है अगर मामले बढ़ नहीं रहे तो मृत्युदर इतनी ज्यादा क्यों है?'

कोरोनिल विवाद पर रामदेव का ट्वीट, 'आयुर्वेद से नफरत करने वालों को हाथ लगी निराशा'

UP में कोरोना मृतकों की संख्या 596 हुई
उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण से आठ और मरीजों की मौत के बाद इस बीमारी से मरने वालो की संख्या 596 हो गयी है। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बुधवार को कहा, टप्रदेश में वर्तमान में संक्रमण के 6375 मामले हैं। जबकि, 12586 कोरोना मरीज स्वस्थ हो गये और उन्हें अस्पताल से छुटटी दे दी गई।' उन्होंने बताया कि प्रदेश में संक्रमण के 700 नए मामले आए हैं। प्रदेश में कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 19,557 है।

प्रसाद ने बताया कि बुधवार को पूरे प्रदेश में औचक तौर पर स्वास्थ्य कर्मी, दुकानदार और सेल्स मैन के नमूने लिए गए। नमूना लेने के काम को और बढ़ाया जाएगा। उन्होंने बताया कि गुरुवार से मेरठ मंडल के छह जिलों में और लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी, कानपुर और गोरखपुर में एंटीजन जांच की सुविधा शुरू हो जायेगी ।

UP: 21 आईएएस अफसरों को मिला प्रमोशन, चार वरिष्ठ जेल अधीक्षकों का तबादला

बता दें कि चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में संक्रमण के मामलों में कमी दर्ज की गई है। प्रदेश में संक्रमित मरीजों के सक्रिय मामलों की संख्या में लगातार कमी दर्ज की जा रही है। कोरोना महामारी से जूझ रहे अन्य राज्यों के मुकाबले उत्तर प्रदेश की स्थिति में काफी सुधार हुआ है।

कोरोना के डर में सिजेरियन डिलीवरी कराने से महिलाओं ने किया मना, नार्मल डिलीवरी में आई तेजी

प्रदेश में 36.40 प्रतिशत मामले ही सक्रिय
प्रदेश में स्वस्थ हो रहे मरीजों की संख्या सक्रिय मामलों की तुलना में बढ़ी है। प्रदेश में बीते 21 जून को 596 संक्रमित मरीजों की पुष्टि की गई वहीं इस दौरान 626 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। प्रदेश में कोरोना मामलों में हो रहे सुधार के चलते फिलहाल 36.40 प्रतिशत मामले ही सक्रिय हैं। बीते 21 जून को राज्य में कुल संक्रमित 17,731 मरीजों में से 11,601 लोग पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके थे। राज्य में अब कोरोना के 6186 ही सक्रिय मामले हैं।

Coronavirus: उत्तर प्रदेश में थमी कोरोना की रफ्तार, रिकवरी रेट बढ़कर 63.31 प्रतिशत हुआ

राज्य में ठीक हो रहे मरीजों का प्रतिशत बढ़कर 63.31 हुआ
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक प्रदेश में अब तक 11 हजार से अधिक लोग स्वस्थ हो चुके हैं। राज्य में ठीक हो रहे मरीजों का प्रतिशत बढ़कर 63.31 हो गया है। प्रदेश में संक्रमण की चपेट में आने से अब तक 569 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद के मुताबिक बीते रविवार 15 हजार 79 सैंपल की जांच की जा चुकी है। प्रदेश में अब तक कुल 74 हजार 340 सैंपल की जांच की जा चुकी है।

कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरों को यहां पढ़ें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.