Saturday, May 26, 2018

दून में सड़ता कूड़ा अब सियासत के आ रहा काम, भिड़ रहे भाजपाई और कांग्रेसी

  • Updated on 5/16/2018

देहरादून/ब्यूरो। शहर में सड़ रहा कूड़ा अब राजनीतिक फसाद का कारण बनने लगा है। कांग्रेस और भाजपा के कार्यकर्ता कूड़े की सफाई को लेकर भिड़ रहे हैं। बुधवार को ऐसा ही एक मामला गोविंदगढ़ क्षेत्र में सामने आया। 

यहां दोनों दलों के कार्यकर्ता कूड़े की सफाई के लिए पहुंचे, तो उनमें हाथापाई और मारपीट की नौबत आ गई। बाद में किसी तरह मामला निपटा। हालांकि क्षेत्र में सफाई फिर भी नहीं हो सकी। बुधवार को भाजयुमो उपाध्यक्ष राजकुमार तिवारी की अगुवाई में कार्यकर्ता गोविंदगढ़ अंतर्गत सत्संग भवन के पास फैले कूड़े की सफाई के लिए पहुंचे थे। 

बताया जाता है कि इस दौरान वहां स्थानीय पार्षद चरणजीत कौशल के नेतृत्व में कांग्रेसी भी आ गए। दोनों पक्ष यहां सफाई की बात करने लगे। कांग्रेसी पार्षद चरणजीत कौशल का कहना है कि शांति विहार में मोहल्ला स्वच्छता समिति के लोग सफाई अभियान के लिए गए थे और वहीं जान बूझकर भाजपा के लोग भी सफाई के लिए आ पहुंचे। 

तभी मोहल्ला समिति के लोगों ने कह दिया कि सरकार तुम्हारी है, तुम हमारा समर्थन क्यों नहीं करते। इसी को लेकर भाजपा और कांग्रेस दोनों के कार्यकर्ता आपस में उलझ पड़े। नौबत मारपीट तक आ गई। उधर, भाजपा के राजकुमार तिवारी का कहना है कि पार्षद जानबूझकर मामले में राजनीति कर रहे हैं।

Navodayatimes

सुब्रतो कप अंडर-17: देहरादून सहित इन टीमों ने किया जीत से आगाज

लक्ष्मी रोड पर कूड़े में लगी आग
लक्ष्मी रोड पर बुधवार सुबह सड़क किनारे फैले कूड़े में अचानक आग लग गई। आग इतनी भड़की कि आसपास धुआं ही धुआं फैल गया। किसी ने इसकी सूचना फायर ब्रिगेड को दी। इसके बाद किसी तरह आग पर काबू पाया जा सका। 

इसी तरह ओल्ड सर्वे रोड तिराहे पर भी किसी ने कूड़े में आग लगा दी। बहरहाल, सवाल इस बात का है कि आखिर कूड़े में आग एकाएक कैसे लग रही है। ऐसा तो नहीं कि कोई जानबूझकर सड़क किनारे फैले कूड़े में आग लगवा रहा है।

दो दिन बाद चली गाड़ियां
भले नगर निगम के अफसर लगातार यह दावा कर रहे हों कि शहर में डोर टू डोर कूड़ा उठान वाली गाड़ियां लगातार चल रही हैं, लेकिन वस्तुस्थिति इसके उलट है। बीते दो दिन से शहर में कूड़ा उठान वाली गाड़ियां नहीं चल रही थीं। बुधवार को इस सूचना पर सालावाला के पार्षद भूपेंद्र कठैत सहस्रधारा रोड स्थित निगम की वर्कशॉप पर पहुंचे और वाहन चालकों से गाड़ियां चलाने की अपील की। 

काफी देर तक हुई वार्ता के बाद आखिरकार सभी चालक शहर के वार्ड में कूड़ा उठान के लिए राजी हुए। वहीं, भूपेंद्र कठैत ने बुधवार को राजपुर रोड स्थित मयूर ऑटो के पास स्थानीय लोगों के साथ मिलकर सफाई अभियान चलाया। उधर, भाजपा नेता महेश पांडे ने क्लेमनटाऊन क्षेत्र में लोगों के साथ मिलकर सफाई की।

उत्तराखंड: अस्पताल के खाने में निकला कीड़ा, हंगामे के बाद जांच के आदेश

नगर आयुक्त से मिले, निगम में गरजे
हड़ताली कर्मचारियों का धरना-प्रदर्शन आज भी नगर निगम परिसर में जारी रहा। इस दौरान कर्मचारी नेताओं ने भाजपा सरकार पर जमकर आरोप लगाए। उनका कहना था कि कांग्रेस सरकार में संविदा नियुक्ति का शासनादेश हो चुका था, लेकिन भाजपा सरकार आते ही मेयर विनोद चमोली ने इस मामले को जानबूझकर ठंडे बस्ते में डाल दिया। बाद में कर्मचारियों ने नगर आयुक्त विजय जोगदंडे से मुलाकात कर मांगों से संबंधित ज्ञापन उन्हें सौंपा।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.