RSS प्रमुख भागवत का सरकार पर हमला, कहा- कोई युद्ध नहीं फिर भी सीमा पर शहीद हो रहे जवान

  • Updated on 1/18/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोई युद्ध नहीं हो रहा है फिर भी देश की सीमाओं पर सैनिक शहीद हो रहे हैं।आरएसएस प्रमुख ने प्रहार समाज जागृति संस्था के रजत जयंती कार्यक्रम के अवसर पर यहां कहा कि ऐसा इसलिए हो रहा है क्योंकि हम अपना काम ठीक से नहीं कर रहे हैं।

उन्होंने कहा,‘भारत को आजादी मिलने से पहले देश के लिए जान कुर्बान करने का वक्त था। आजादी के बाद युद्ध के दौरान किसी को सीमा पर जान कुर्बान करनी होती है। (लेकिन) हमारे देश में इस वक्त कोई युद्ध नहीं है फिर भी सैनिक शहीद हो रहे है। क्योंकि हम अपना काम ठीक ढंग से नहीं कर रहे हैं।

युवाओं के असंतोष से मोदी सरकार के खिलाफ गुस्से की ‘सुनामी’ : माकपा

 उन्होंने कहा,अगर कोई युद्ध नहीं है तो कोई कारण नहीं है कि कोई सैनिक सीमा पर अपनी जान गंवाए। लेकिन ऐसा हो रहा है। उन्होंने कहा कि इसे रोकने और देश को महान बनाने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए। इसके साथ ही भागवत ने सरकार पर निशाना साधते हुए सैनिकों की शहादत भी सवालिया निशान लगा दिया है। 

कांग्रेस से दिल्ली में गठबंधन पर AAP के गोपाल राय ने हाथ खड़े किए


इसके अलावा कुंभ मेले में आरएसएस के सरकार्यवाहक भैयाजी जोशी ने जहां राम मंदिर निर्माण को लेकर मोदी सरकार पर तंज कसा है, वहीं सरसंघचालक मोहन भागवत ने मौजूदा वक्त में सेना के जवानों की हो रही शहादत को लेकर सरकार को घेरा है।

मायावती ने भतीजे आकाश आनंद को लेकर मीडिया पर निकाली भड़ास

बता दें आरटीआई के जरिए गृहमंत्रालय से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक, मोदी सरकार के शुरुआती तीन सालों के दौरान यानी मई, 2014 से मई, 2017 तक सिर्फ जम्मू कश्मीर में 812 आतंकवादी घटनाएं हुईं। इन घटनाओं में 62 नागरिक मारे गए, जबकि 183 जवानों की शहादत हुई। ऐसे ही आंकड़े सामने रख विपक्षी दल मोदी सरकार पर निशाना साधते रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.