Sunday, May 26, 2019

शहीद पर आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद साध्वी प्रज्ञा ने मांगी माफी

  • Updated on 4/19/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल।  शहीद हेमंत करकरे (Hemant Karkare) पर अपमानजनक टिप्पणी कर चौतरफा घिरीं भोपाल से बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा (Sadhvi Pragya Singh Thakur)  सिंह ठाकुर ने आखिरकार माफी मांग ली है। साध्वी प्रज्ञा ने कहा, 'मैंने महसूस किया कि देश के दुश्मनों को इससे (मुंबई ATS के पूर्व चीफ हेमंत करकरे पर दिए बयान) फायदा हो रहा था, इसलिए मैं अपने बयान को वापस लेती हूं, और इसके लिए माफी मांगती हूं, यह मेरी निजी वेदना थी। 

साध्वी प्रज्ञा और BJP पर बरसे विश्वास-अलका, बोले-लानत है तुम्हारे ऐसे उम्मीदवार पर

बता दें कि प्रज्ञा ने हेमंत करकरे (Hemant Karkare) पर आरोप लगाया कि उन्होंने मुझे गलत तरीके से फंसाया, मैंने उन्हें बताया था कि तुम्हारा पूरा वंश खत्म हो जाएगा। वो केवल अपने कर्मों की वजह से मरे हैं। प्रज्ञा ने आरोप लगाया कि हेमंत करकरे ने मेरे साथ काफी गलत तरीके से व्यवहार किया था और गलत तरीके से फंसाया था। 

बहुमत मिलने पर अनुच्छेद 370 को खत्म करेगी भाजपा: अमित शाह

साध्वी प्रज्ञा ने आगे कहा, कि वो जांच अधिकारी सुरक्षा आयोग का सदस्य था, उन्होंने हेमंत करकरे को बुलाया और कहा कि साध्वी को छोड़ दो। लेकिन हेमंत करकरे ने कहा कि मैं कुछ भी करूंगा लेकिन सबूत लाउंगा और साध्वी को नहीं छोड़ूंगा।

साध्वी ने कहा कि मैंने उसे कहा था तेरा सर्वनाश होगा, उसने मुझे गालियां दी थीं। जिस दिन मैं गई तो उसके यहां सूतक लगा था और जब उसे आतंकियों ने मारा तो सूतक खत्म हुआ।

J&K में 'सेना के रक्षा कवच' के रूप में इस्तेमाल हुए 'फारूक अहमद डार' की चुनाव में लगाई गई ड्यूटी

साध्वी ने कहा कि मैंने उसे कहा था तेरा सर्वनाश होगा, उसने मुझे गालियां दी थीं। जिस दिन मैं गई तो उसके यहां सूतक लगा था और जब उसे आतंकियों ने मारा तो सूतक खत्म हुआ।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.