Sunday, May 26, 2019

चुनाव आयोग के फैसले के बाद साध्वी प्रज्ञा का चुनाव लड़ने का रास्ता साफ!

  • Updated on 4/19/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। मालेगांव बम विस्फोट मामले में जमानत पर बाहर आईं साध्वी प्रज्ञा ठाकुर (Sadhvi Pragya thakur) को चुनाव आयोग (Election Commission) ने बड़ी राहत दी है। विपक्षी पार्टियों द्वारा उनपर किये जा रहे लगातार हमलों के बाद चुनाव आयोग ने साध्वी प्रज्ञा (Sadhvi Pragya thakur) के बारे में कहा है कि उनको अभी आरोपी ठहराया गया है दोषी नहीं। इसलिए चुनाव आयोग साध्वी प्रज्ञा (Sadhvi Pragya thakur) का नामांकन रद्द नहीं करेगा।

साध्वी प्रज्ञा के बयान पर मचा बवाल, BJP पर बरसे केजरीवाल, कहा-असली रंग दिखा रही पार्टी

मालूम हो कि जनप्रतिनिधि कानून के मुताबिक केवल दोषी व्यक्ति के चुनाव लड़ने पर ही रोक लगायी जा सकती है।  जन प्रतिनिधि कानून 1951 के मुताबिक दोषी व्यक्ति को जितने दिन की सजा मिली है, उसे पूरी करने के बाद अगले 6 साल तक वह व्यक्ति चुनाव नहीं लड़ सकता।

प्रियंका वाड्रा के वाराणसी से चुनाव लड़ने को लेकर कांग्रेस MLC ने कही ये बात

जबकि सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले में भी इस बात का जिक्र है कि अगर दोषी की अपील हाई कोर्ट में लंबित है तो भी वह व्यक्ति चुनाव नहीं लड़ सकता जब तक उसकी सजा पर रोक न लग जाए। कुल मिलाकर बात का निचोड़ यह है कि चुनाव आयोग ने अपनी तरफ से साध्वी प्रज्ञा का चुनाव लड़ने का रास्ता लगभग-लगभग साफ कर दिया है। अब देखना यह है कि सुप्रीम कोर्ट इस विषय पर कब संज्ञान लेता है। 

मालूम हो कि पूर्व कांग्रेसी तहसीन पूनावाला ने चुनाव आयोग से पत्र लिखकर शिकायत की थी कि साध्वी प्रज्ञा के खिलाफ आतंकी गतिविधियों में लिप्त होने का मामला चल रहा है और उन्हें स्वास्थ्य खराब होने के चलते जमानत मिली है, ऐसे में उनके नामांकन को रद्द किया जाए। 

भाजपा ने किया साध्वी के बयान से किनारा

वहीं साध्वी प्रज्ञा शहीद हेमंत करकरे पर की गई विवादित टिप्पणी के बाद विपक्ष के निशाने पर आ गई हैं। प्रज्ञा ने  26/11 हमले में शहीद हुए मुंबई ATS के पूर्व चीफ हेमंत करकरे के बारे में कहा था कि उन्हें अपने कर्मों की वजह से ऐसी मौत मिली है। प्रज्ञा ने उन्हें रावण भी कहा था। उनके इस बयान से बीजेपी ने किनारा कर लिया है। पार्टी ने कहा है कि भाजपा का उनके इस बयान से कोई लेना देना नहीं है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.