Thursday, Jan 20, 2022
-->
sah said kashmir would have been happy today if pm had taken decision before modi albsnt

Article 370: गृह मंत्री ने कहा- काश मोदी से पहले के PM निर्णय लेते तो आज खुशहाल होता कश्मीर

  • Updated on 10/24/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। जम्मू-कश्मीर में धारा 370 के खात्मे के 2 साल बाद गृह मंत्री अमित शाह अपने तीन दिवसीय यात्रा पर पहुंचे हुए है। जिसको लेकर चर्चा तेज है। इसी कड़ी में जहां पहले कल करीब चार घंटे तक सुरक्षाबलों के शीर्ष अधिकारी के साथ सुरक्षा को लेकर चुनौती पर गहन विचार-विमर्श किया। तो वहीं आज कई विकास योजनाओं का शिलान्यास किया है। इस अवसर पर गृह मंत्री अमित शाह ने लोगों को संबोधित करते हुए जम्मू-कश्मीर में बदलाव का जिक्र भी किया।

PM मोदी ने फिर से 'वोकल फॉर लोकल' पर दिया जोर, कहा- खरीददारी करके सोशल मीडिया पर करें पोस्ट

बता दें कि अमित शाह ने लोगों को भरोसा दिया कि उन्हें किसी भी सूरत में अकेले नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार यह सुनश्चित करेगी कि एक भी व्यक्ति की मौत आतंकवादियों के गोली से न हो। इसके लिये उन्हें जो भी भरसक प्रयास करने पड़ेंगे वो करेंगे। उन्होंने सुरक्षाबलों को पूरी ताकत के साथ इन आतंकियों से मुकाबला करने को कहा है। गृह मंत्री ने कहा कि उन्हें आश्चर्य होता है कि विरोधी दल के लोग सुरक्षा को लेकर सवाल उठाते रहते है।

सिद्धू के नहीं बदले तेवर! पंजाब कांग्रेस की कलह फिर से आई सामने, पार्टी भी असमंजस में

मालूम हो कि अमित शाह ने विरोधी दलों को जवाब देते हुए कहा कि तथ्य पर थोड़ा नजर दौड़ाएंगे तो सबकुछ स्पष्ट हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि 2004-14 के बीच 2081 लोगों की जान गई। उस समय तो मोदी सरकार केंद्र में नहीं थी। जबकि 2014 से सितंबर 2021 तक नजर दौड़ाएंगे तो 239 लोगों की मौत हुई है। जो मैं स्वीकारता हूं। उन्होंने कहा कि वे इसे भी जीरो पर लाने के लिये प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि जम्म-कश्मीर में अन्याय दोनों तरफ से होते थे। एक आतंकी गोली का शिकार बना लेते थे। जबकि यहां की राजनीतिक दल धारा 370 की आड़ में विकास लोगों तक पहुंचने नहीं देते थे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वहीं किया जो संविधान के तहत किसी भी प्रधानमंत्री को बहुत पहले कर देना चाहिये था।  

 

comments

.
.
.
.
.