Tuesday, Nov 29, 2022
-->
samajwadi-party-akhilesh-yadav-say-three-engines-of-bjp-destroying-law-order-in-up-rkdsnt

भाजपा के तीन इंजन ध्वस्त कर रहे हैं यूपी की कानून-व्यवस्था : अखिलेश 

  • Updated on 11/9/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने लखीमपुर खीरी मामले की जांच पर उच्चतम न्यायालय के कड़े रुख को लेकर राज्य में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए मंगलवार को कहा कि उसके तीन इंजन कानून—व्यवस्था को ध्वस्त कर रहे हैं। अखिलेश ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा‘‘उच्चतम न्यायालय ने कहा है कि लखीमपुर मामले के आरोपियों को बचाने की कोशिश हो रही है। अदालतें पहले भी कई बार प्रदेश की कानून—व्यवस्था पर सवाल उठा चुकी है। सरकार आखिर जांच की निगरानी क्यों नहीं कराना चाह रही है। हम पहले से ही कह रहे हैं कि जब तक यहां भाजपा की सरकार है, न्याय की उम्मीद छोड़ दीजिये।‘‘

फडणवीस का दावा - नवाब मलिक के परिवार ने ‘अंडरवर्ल्ड’ के लोगों से जमीन खरीदी

उन्होंने आरोप लगाया,‘‘तीन इंजन कानून—व्यवस्था को ध्वस्त कर रहे हैं। दिल्ली वाला इंजन, लखनऊ वाला इंजन और लखीमपुर वाला इंजन। जिनके बेटे को इस मामले (लखीमपुर मामले) में गिरफ्तार किया गया, उन गृह राज्यमंत्री (अजय मिश्रा) को अभी तक बर्खास्त नहीं किया गया।‘‘   सपा अध्यक्ष ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने विशेष जांच दल (एसआईटी) पर सवाल खड़े किये हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि किसे फंसाना है, किसके पीछे इसे लगाना है, जांच को कहां ले जाना है, यह सब भाजपा तय करती है। आखिरकार एसआईटी की अपनी जांच कब होगी।

लखीमपुर हिंसा : यूपी न्यायिक आयोग की जांच से नाराज सुप्रीम कोर्ट ने दो पूर्व जजों के नाम सुझाए

  उत्तर प्रदेश की पूर्ववर्ती सपा सरकार पर अपराध की राजनीति करने के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आरोप पर अखिलेश ने कहा,‘‘आखिर कौन मुख्यमंत्री यह बात बोल रहे हैं। वह बताएं कि आखिर उनके ऊपर क्या धाराएं लगी थीं जिन्हें उन्होंने मुख्यमंत्री बनने के बाद खुद ही वापस ले लिया।‘‘   नवम्बर 2016 में केन्द्र की भाजपा नीत सरकार द्वारा की गयी नोटबंदी का जिक्र करते हुए अखिलेश ने कहा कि इतने वर्ष गुजर जाने के बावजूद भगवा पार्टी यह नहीं बता रही है कि नोटबंदी के क्या फायदे हुए हैं।

नोटबंदी से भारतीय अर्थव्यवस्था ऐसी ध्वस्त हुई कि आजतक उठ नहीं सकी: कांग्रेस

    उन्होंने कहा कि जिसे‘मास्टरस्ट्रोक’बताया गया था वह‘ब्रेन स्ट्रोक’साबित हुआ और जनता को परेशान करने के लिये जानबूझकर नोटबंदी की गयी थी।    उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद विदेशी बैंकों में जमा कालाधन वापस लाने का आश्वासन दिया गया था और भ्रष्टाचार खत्म करने का दावा किया गया था, लेकिन बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार बढ़ा है।       उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था की दुर्दशा के लिये भाजपा की गलत नीतियां जिम्मेदार हैं।    अखिलेश ने कहा, ‘‘ नोटबंदी के कारण बड़ी संख्या में नौजवानों, व्यापारियों और किसानों ने आत्महत्या की है। सरकार के पास इसका कोई जवाब है क्या। सरकार ने बड़े लोगों को फायदा पहुंचाने के लिये नोटबंदी की।’’

कांग्रेस का आरोप- राफेल मामले पर पर्दा डालने के लिए मोदी सरकार, CBI-ED में हुई सांठगांठ

अखिलेश ने अपने निर्वाचन क्षेत्र में दो सड़कों का निर्माण नहीं होने के विरोध में अनशन पर बैठे गौरीगंज सीट से दो बार विधायक रहे राकेश प्रताप सिंह का जिक्र करते हुए कहा,‘‘हमारे एक विधायक धरना पर बैठे हुए हैं। उनसे अपील है कि बहरी और अंधी सरकार के खिलाफ धरना देना छोड़ कर स्वस्थ होइए और इस सरकार से लडिय़े।‘‘   उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेता रामगोविंद चौधरी सिंह का अनशन खत्म कराएंगे।   राजधानी में आमरण अनशन कर रहे सिंह को पुलिस ने गत शुक्रवार को तबीयत बिगडऩे पर जबरन डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी अस्पताल में भर्ती कराया था। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.