Friday, Jan 21, 2022
-->
sameer-wankhede-father-challenged-order-of-single-bench-of-high-court-in-division-bench-rkdsnt

समीर वानखेड़े के पिता ने हाई कोर्ट की एकल पीठ के आदेश को खंडपीठ में दी चुनौती 

  • Updated on 11/24/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े के पिता ज्ञानदेव वानखेड़े ने बुधवार को बंबई उच्च न्यायालय का रुख कर इसकी एकल पीठ के उस आदेश को चुनौती दी, जिसमें महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक को समीर वानखेड़े या उनके परिवार के खिलाफ टिप्पणी करने या सोशल मीडिया पोस्ट करने से रोकने से इनकार कर दिया गया था। 

समाजवादी पार्टी का BJP पर तंज, कहा- साफ नहीं इनका दिल, चुनाव बाद फिर लाएंगे ‘बिल’

ज्ञानदेव वानखेड़े ने अपनी याचिका पर तत्काल सुनवाई करने की अपील की और जस्टिस एस. जे. कथावाला और जस्टिस मिलिंद जाधव की खंडपीठ से उन्हें राहत देने का अनुरोध किया। उनकी याचिका पर बृहस्पतिवार को सुनवाई होने की संभावना है। सोमवार को जस्टिस माधव जामदार की एकल पीठ ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेता मलिक के खिलाफ वानखेड़े की मानहानि के मुकदमे में उन्हें (वानखेड़े को) कोई अंतरिम राहत देने से इनकार कर दिया था। 

केजरीवाल के वीडियो मामले में संबित पात्रा के खिलाफ कोर्ट ने FIR दर्ज कराने का दिया निर्देश

 वानखेड़े के पिता, ज्ञानदेव ने मलिक द्वारा की गई टिप्पणियों को अपमानजनक बताया है। उन्होंने इस महीने की शुरुआत में उच्च न्यायालय में मलिक के खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर किया था, जिसमें अन्य बातों के अलावा, मंत्री को उनके और उनके परिवार के खिलाफ सोशल मीडिया पर अपमानजनक पोस्ट करने से रोकने का अनुरोध किया गया था।

कपड़े, जूतों पर GST बढ़ोतरी और महंगाई को लेकर कांग्रेस ने मोदी सरकार पर साधा निशाना

     

 

 

 

 

 

 

comments

.
.
.
.
.