Tuesday, Oct 26, 2021
-->
samyukta kisan morcha skm says bharat bandh unprecedented success people supported rkdsnt

भारत बंद से उत्साहित संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा- लोगों ने दिया भरपूर साथ

  • Updated on 9/27/2021

नई दिल्ली/ टीम डिजिटल। तीन कृषि कानूनों का विरोध करने वाले किसान संघों के मुख्य संगठन संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने सोमवार को कहा कि उसके भारत बंद के आह्वान को 23 से अधिक राज्यों में 'अभूतपूर्व और ऐतिहासिक' प्रतिक्रिया मिली और कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है। 

कांग्रेस ने किसानों के भारत बंद के बीच मोदी सरकार पर साधा निशाना

दिल्ली पुलिस ने यति नरसिंहानंद, सूरज पाल अमू के खिलाफ मामलों से झाड़ा पल्ला!

मोर्चा ने एक बयान में कहा, ‘‘भारत बंद के आह्वान पर काफी सकारात्मक और शानदार प्रतिक्रिया की खबरें आ रही हैं... देश के अन्नदाता की जायज मांगों के साथ शांतिपूर्ण विरोध के 10 महीने होने पर। अधिकतर स्थानों पर समाज के विभिन्न वर्गों की स्वभाविक हिस्सेदारी देखी गई।' मोर्चा ने कहा कि भारत बंद 23 से ज्यादा राज्यों में शांतिपूर्ण ढंग से रहा और किसी भी अप्रिय घटना की खबर नहीं है। मोर्चा ने बंद को समर्थन देने वाले राजनीतिक दलों और राज्य सरकारों की भी सराहना की।

अमेरिका से लौटते ही काम पर जुटे पीएम मोदी, सेंट्रल विस्टा के निर्माण का लिया जायजा 

बयान में कहा गया है कि बंद तथा इस मौके पर आयोजित हुए कई कार्यक्रमों के बारे में आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, झारखंड, केरल, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पुडुचेरी, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और पश्चिम बंगाल में सैकड़ों स्थानों से खबरें आयी हैं। इसमें कहा गया है कि सिर्फ पंजाब में ही बंद को समर्थन देने के लिए 500 से ज्यादा जगहों पर लोग एकत्र हुए तथा कई गैर-किसान संगठन भी किसानों के साथ खड़े हुए।

 यूपी में कांग्रेस की चुनाव तैयारियों का जायजा लेने लखनऊ पहुंचीं प्रियंका गांधी

CJI रमण ने महिलाओं को न्यायपालिका में 50 फीसदी आरक्षण पर दिया जोर

मोर्चा ने बयान में कहा, 'केरल, पंजाब, हरियाणा, झारखंड और बिहार जैसे कई राज्यों में जनजीवन लगभग ठप हो गया। रिपोर्टों से संकेत मिलता है कि दक्षिणी असम, कर्नाटक, तमिलनाडु, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तराखंड के कई हिस्सों में यही स्थिति थी। इस दिन तमिलनाडु, तेलंगाना, कर्नाटक, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड जैसे राज्यों में कई जगहों पर प्रदर्शन किए गए।’’ 

विपक्ष ने किया साफ- ‘चुनावी मंत्रिमंडल विस्तार’ से नहीं होगा BJP का भला


 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.