संकष्टी चतुर्थी आज, 48 साल बाद बन रहा दुर्लभ संयोग, इस विधि से करें पूजन, होंगे सारे काम पूरे

  • Updated on 1/24/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। इस महीने की 24 जनवरी यानी आज संकष्टी चतुर्थी मनाई जाएगी। सकंष्टी चतुर्थी के दिन भगवान गणपति जी की पूजा करने से सारी मनोकामनाएं पूरी होती है और साथ ही सारे कष्ट भी दूर होते हैं।

इस चतुर्थी को वक्रतुंडी चतुर्थी, माघी चौथ और तिलकुटा चौथ भी कहते हैं। इस चौथ को संतान की लंबी आयु के लिए किया जाता है। इस व्रत को अर्घ्य देकर ही खोला जाता है। इस दिन स्त्रियां निर्जल व्रत रखती हैं। सूर्यास्त से पहले ही गणेश संकष्टी चतुर्थी व्रती की पूजा होती है।

भगवान गणेश के इस रूप से भक्त रह जाते हैं हैरान, इसलिए दर्शन करने जाते हैं श्रद्धालु

इस दिन तिल का प्रसाद ग्रहण करना चाहिए और साथ ही दूर्वा, शमी, बेलपत्र और गुड़ के बने तिल के लड्डू चढ़ाने चाहिए। व्रत रखने वाले जातक फलों का सेवन भी कर सकते हैं। 

पूर्णिमा-चन्द्रग्रहण पर गंगा में लगाई डुबकी, कई राज्यों से आये श्रद्धालु

पूजा विधि

  • सबसे पहले सुबह स्नान कर साफ-सुथरे कपड़े धारण करें।
  • पूजा के लिए चौकी पर लाल या पीले रंग का कपड़ा बिछाकर भगवान गणेश की प्रतिमा को स्थापित करें।
  • अब पूजा और व्रत का संकल्प लें और फिर भगवान को जल, लड्डू, पान व धूप आदि अर्पित करें। इसी के साथ ओम गं गणपतये नम: मंत्र का जाप करें।
  • अब चौथ की कहानी सुनने के बाद एक कटोरी में तिलकुट और रुपए रख कर सास या घर के बड़ों के पैर छूकर उन्हें दे।
  • इसके बाद हाथ में जल और तिलकुट लेकर चंद्रमा को अर्ध्य दें और प्रणाम करके संतान की लंबी आयु का आर्शिवाद मांगे।
  • पूजन के बाद लड्डू प्रसाद स्वरुप ग्रहण करें।

पूजा का शुभ समय
ये व्रत संपूर्ण निराहार रखा जाता है और रात में चंद्रमा या तारों के दर्शन करके अर्ध्य देकर व्रत खोला जाता है। इस बार खास बात यह है कि 48 सालों बाद अर्ध कुंभ के दौरान ये व्रत होगा और इसी दिन गुरुवार पड़ने से भगवान विष्णु का भी पूजन किया जाएगा। 

#KumbhMela: कुंभ जाने वाले दूसरे राष्ट्रपति बने रामनाथ कोविंद, संगम तट पर की आरती

समयानुसार शाम में 9 बजकर 25 मिनट पर चंद्रमी उदय होगा तो व्रत जातक को इससे पहले पूजा का कार्य पूरा करके अर्ध्य देने की तैयारी पूरी करनी होगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.