Sunday, Apr 11, 2021
-->
satyendra jain said third wave of covid19 in delhi but no intention to impose lockdown pragnt

दिल्ली में कोरोना की तीसरी लहर खत्म, नहीं लगेगा लॉकडाउन: सत्येंद्र जैन

  • Updated on 11/16/2020

नई दिल्ली /टीम डिजिटल। देश की राजधानी में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण ने विकराल रूप धारण कर लिया है। कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने राज्य में दोबारा लॉकडाउन की खबरों को सिरे से खारिज कर दिया। दिल्ली (Delhi) के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendar Jain) ने सोमवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में दोबारा लॉकडाउन (Lockdown) लगाने का कोई इरादा नहीं है क्योंकि कोविड-19 की तीसरी लहर की चरम सीमा यहां से गुजर चुकी है।

दिल्ली में कहर बनकर टूट रही कोरोना की तीसरी लहर, गृहमंत्री अमित शाह ने आज बुलाई आपात बैठक

बढ़ते मामलों के बीच स्वास्थ्य मंत्री ने कहा ये
उन्होंने पत्रकारों से कहा कि लॉकडाउन के जरिए संक्रमण पर काबू नहीं किया जा सकता और लोगों को मास्क पहनकर अपना बचाव करना चाहिए। दिल्ली में 28 अक्टूबर के बाद से कोरोना वायरस के मामलों में काफी बढ़ोतरी दर्ज की गई, जब पांच हजार से अधिक नए मामले सामने आए थे। बुधवार को यहां आठ हजार से अधिक नए मामले सामने आए थे। वहीं, गुरुवार को बीते पांच महीने में पहली बार सर्वाधिक 104 लोगों की मौत हुई थी।

केजरीवाल ने 11 विधायकों को जिला विकास समितियों के अध्यक्षों के रूप में नामित किया

दिल्ली में दोबारा नहीं लगेगा लॉकडाउन
लॉकडाउन फिर लगाए जाने के सवाल पर जैन ने कहा, 'कोई संभावना नहीं है।' उन्होंने कहा, 'मैं आपको बता सकता हूं कि तीसरी लहर की चरम सीमा जा चुकी है।' एक दिन पहले ही केन्द्र ने 300 अतिरिक्त आईसीयू बेड (बिस्तर) की व्यवस्था करने, प्रतिदिन होने वाली आरटीपीसीआर जांच की संख्या दोगुना करने और राष्ट्रीय राजधानी में घर-घर जाकर सर्वेक्षण करने की घोषणा की थी। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने यह भी कहा था कि दिल्ली के नगर निगमों के तहत आने वाले कुछ अस्पतालों को समर्पित कोविड अस्पतालों में परिवर्तित किया जाएगा।

अमित शाह ने केजरीवाल के साथ दिल्ली में कोरोना के हालात का लिया जायजा

कोरोना के बिगड़े हालात तो केंद्र ने संभाली कमान
दिल्ली में कोरोना वायरस की तीसरी लहर अपने चरम पर पहुंच चुकी है। राजधानी में कोरोना से हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं। ऐसे में बीते रविवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने राजधानी में कोरोना की स्थित का जायजा लेने के लिए नॉर्थ ब्लॉक में एक बैठक बुलाई है। इस बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और सीएम अरविंद केजरीवाल उपस्थित रहे।

BPCL निजीकरण: सोमवार को बंद होगी बोली, निगाहें रिलायंस पर

गृहमंत्री अमित शाह ने की उच्च स्तरीय बैठक
गृहमंत्री अमित शाह ने बैठक के बाद सिलसिलेवार ट्वीट कर यहां लिए गए फैसलों की जानकारी दी। उन्होंने कहा, 'दिल्‍ली के अंदर कोविड-19 के बढ़ते मामलों और यहां मेडिकल इंफ्रास्ट्रक्चर की समीक्षा करने के लिए आज एक उच्च स्तरीय बैठक की। मई 2020 में मोदी सरकार ने दिल्ली की जनता को कोरोना से बचाने के लिए दिल्ली सरकार के साथ विभिन्न कदम उठाये थे जिनके सकारात्मक नतीजे सभी को देखने को मिले थे।'

लॉकडाउन में आर्थिक तंगी के कारण LSR की छात्रा ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिख दी ये बड़ी बात

दिल्ली में कोरोना की स्थिति
दिल्ली में कोविड-19 के 3,235 नये मामले सामने आये जिससे रविवार को यहां संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4.85 लाख से अधिक हो गई, वहीं 95 और मरीजों की संक्रमण से मौत हो जाने से मृतक संख्या बढ़कर 7,614 हो गई। दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार रविवार को दिल्ली में कोविड-19 के नये मामले एक दिन पहले किये गए 21,098 जांच से सामने आये। दिल्ली में संक्रमण दर बढ़कर 15.33 प्रतिशत हो गई। अधिकारी ने बताया कि बढ़ते प्रदूषण के साथ विशेष रूप से त्योहारी मौसम और घटते तापमान को देखते हुए रविवार की बैठक दिल्ली में वायरस के प्रसार को रोकने के लिए एक रणनीति तैयार करने के विषय पर चर्चा के लिए आहूत की गई थी।

यहां पढ़े कोरोना से जुड़ी बड़ी खबरें....

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.