CBI के पूर्व निदेशक को SC की फटकार, 1 लाख जुर्माना के साथ दिन भर कोर्ट में रहने की दी सजा

  • Updated on 2/12/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश की सर्वोच्च अदालत ने सीबीआई के अतिरिक्त निदेशक एवं पूर्व अंतरिम निदेशक एम नागेश्वर राव को जोरदार फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने उन्हें अदालत की अवमानना का दोषी पाया है। जिसके लिए उन्हें एक दिन कोर्ट में बैठने की सजा सुनाई गई। इसके साथ ही उन्हें एक लाख रुपये नगद राशि भुगतान की सजा सुनाई गई। 

हालांकि बताया जा रहा है कि नागेश्वर राव ने सुप्रीम कोर्ट से बिना शर्त माफी मांगी थी। बता दें कि जब राव को सीबीआई का अंतरिम डायरेक्टर बनाया गया था तो सुप्रीम कोर्ट ने उनसे किसी भी तरह के फैसले लेने से मना कर दिया था। हालांकि इसके बाद भी उन्होंने कोर्ट की अवमानना करते हुए बिहार शेल्टर होम मामले की जांच कर रहे अधिकारियों का तबादला किया था। जिससे कोर्ट की अवमानना के रुप में देखा गया।

प्रयागराज में दंगल, अखिलेश का आरोप योगी सरकार ने छात्रों से मिलने पर लगाई रोक

सीबीआई की तरफ से अटार्नी जनरल ने दलील रखी कि नागेश्वर राव ने माफी मांगी है और उन्होंने जानबूझकर सुप्रीम कोर्ट की अवमानना नहीं की है। जिसके चलते उन्हें एक दिन की सजा का ऐलान किया और कहा कि आखिर ऐसा कौन सा पहाड़ टूट रहा था जो ये निर्देश दिए। सीजेआई ने आगे कहा कि अनिल शर्मा का ट्रांसफर करने से पहले कोर्ट में एफिडेविट देना चाहिए था।
 
 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.