Wednesday, Aug 04, 2021
-->
school-reopen-20-all-state-21-september-know-sop-guidelines-prsgnt

दो दिन बाद खुलने जा रहे हैं देशभर के स्कूल, जानें क्या होंगे नियम और कैसी चल रही है तैयारी....

  • Updated on 9/18/2020

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। कोरोना महामारी के कारण मार्च में लॉकडाउन लगा दिया गया था जिसके बाद से ही स्कूल, कॉलेज और बाकी सभी शिक्षण संस्थान बंद कर दिए गए थे। बच्चों और छात्रों को कोरोना के प्रकोप से बचाने के लिए सरकार द्वारा उठाया गया ये बेहद अहम कदम था। लेकिन अब स्कूल 21 सितंबर से खुलने जा रहे हैं। 

लंबे समय से बंद स्कूल अब कुछ ही दिनों में खुलने जा रहे हैं। आगामी 21 सितंबर से देशभर के सभी स्कूलों की 9वीं से 12वीं क्लासेज खुलने जा रही हैं। इसे लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एसओपी जारी किया है।

CBSE की कंपार्टमेंट परीक्षाएं 22 सितंबर से, बोर्ड ने जारी की गाइडलाइन्स

ये स्कूल खोले जा सकेंगे
देशभऱ में सभी स्कूल नहीं बल्कि वो स्कूल और कॉलेज खोले जा रहे हैं जो कंटेनमेंट जोन से बाहर हैं। इन खोले जाने वाले सभी स्कूलों में सरकारी नियम लागू होंगे। इन स्कूलों के परिसरों में छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारियों को रहने की अनुमति नहीं होगी। बुजुर्ग, प्रेग्नेंट माएं, ज्यादा बीमारियों वाले लोग उन्हें स्कूल नहीं बुलाया जाएगा।

मिलिए, छत्तीसगढ़ के ‘सिनेमा बाबू’ टीचर से जो मोटरसाइकिल पर लगाता है 'मुहल्ला क्लास'

ये बच्चे आयेंगे स्कूल
स्कूलों के लिए जारी किये गए नए नियमों के अनुसार अभी सभी को स्कूल नहीं बुलाया गया है। स्कूल उन लोगों के लिए खोला गया है जो ऑनलाइन पढ़ाई नहीं कर पा रहे थे या जिनके पास ऑनलाइन पढ़ने के साधन, सुविधा आदि दूसरी परेशानियां हैं। इसके साथ ही छोटे बच्चों को नहीं बुलाया गया है केवल 9वीं से 12वीं क्लास के बच्चे ही स्कूल आ सकेंगे।

DU कॉलेजों की ऑडिट रिपोर्ट में गड़बड़ी, करोड़ों जमा हैं फिर भी शिक्षकों क्यों नहीं?- सिसोदिया

क्लास में मानने होंगे ये निर्देश
स्कूलों के लिए जारी की गईं गाइडलाइन्स के अनुसार क्लासेज का सीटिंग अरेंजमेंट्स बदला जाएगा। छात्र 6 फीट की दूरी बना कर बैठेंगे। क्लास में सभी जरूरी गतिविधियों के लिए सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जाएगा। साथ ही सभी अध्यापकों को ये देखना होगा कि छात्र क्लासेज में मास्क लगा कर बैठें। साथ ही सभी टीचर्स भी इस बात का ख्याल रखें कि उन्हें भी मास्क लगा कर रखना होगा। इसके अलावा छात्र आपस में अपनी चीजें जैसे लैपटॉप, नोटबुक, स्टेशनरी शेयर नहीं करेंगे।

वोकेशनल एजुकेशन के एकीकरण के लिए शिक्षा मंत्रालय उठाने जा रहा ये कदम

खुल सकेंगी लैब्स 
वहीँ, स्कूलों में लैब्स और टेक्निकल प्रोग्राम्स में कोर्स कराने वाले इन संस्थानों को लैब खोलने की भी इजाजत दे दी गई है लेकिन इसके लिए सोशल डिस्टेंस मेंटेन करना होगा साथ ही मास्क लगा कर रखना होगा और इस्तेमाल करने वाले उपकरणों को सैनिटाइज़ करना होगा। 

बच्चों से जुड़ी समस्याओं के लिए आगे आए नोबेल विजेता, एक ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर की मदद की

स्कूलों को भेजी जा रही हैं...
स्कूलों में कोरोना की जांच करने के लिए थर्मल गन, अल्कोहल वाइप्स या 1% सोडियम हाइपोक्लोराइट के घोल और डिस्पोजेबल पेपर टॉवल, साबुन, आईईसी जैस तमाम सामग्री उपलब्ध कराई जा रही हैं।  साथ ही निर्देश दिए गए हैं कि स्कूल प्रशासन कवर किए गए डस्टबिन ही इस्तेमाल करें। इसके साथ ही स्कूलों में सेल्फ प्रोटेक्शन की चीजें जैसे फेस कवर, मास्क, हैंड सैनिटाइजर्स आदि उपलब्ध कराई जा रही हैं।

यहां पढ़ें कोरोना से जुड़ी महत्वपूर्ण खबरें...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।
comments

.
.
.
.
.