Tuesday, Sep 28, 2021
-->
schools can be opened in areas where there is less corona infection says aiims director kmbsnt

जिन इलाकों में कम है संक्रमण वहां खोल सकते हैं स्कूल- AIIMS निदेशक

  • Updated on 7/21/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। देश के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एम्स के निदेशक प्रोफेसर रणदीप गुलेरिया ने देश भर में विद्यालयों को खोलने की जरूरत जताई है। उन्होंने कहा कि इस दिशा में विचार किया जा सकता है। एम्स निदेशक के मुताबिक जिन इलाकों में पॉजिटिविटी की रेट 50 प्रतिशत से कम है ऐसे इलाकों में विद्यालय खोलने की योजना बनाई जा सकती है।

साथ ही उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि अगर विद्यालय खोलने के बाद संक्रमण के संकेत मिले तब तत्काल विद्यालयों को बंद कर देना होगा। जिलों में अल्टरनेटिव दिनों में बच्चों को विद्यालय में बुलाने का विकल्प अपनाना होगा।

पेगासस जासूसी विवाद : कांग्रेस ने संसद में जेपीसी जांच पर दिया जोर

बड़ा जोखिम पैदा कर सकती है लापरवाही- विशेषज्ञ
वहीं दूसरी ओर कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के कयासों का सिलसिला जारी है। प्रतिबंधों में छूट मिलने के बाद लोगों के लापरवाही बरतने के मामले भी सामने आ रहे हैं। जो तीसरी लहर के लिहाज से खतरनाक स्थिति पैदा कर सकते हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक लापरवाही बड़ा जोखिम पैदा कर सकती है।

सफदरजंग अस्पताल के सामुदायिक मेडिसिन विभाग के निदेशक और एचओडी प्रोफेसर जुगल किशोर के मुताबिक दूसरी लहर बेहद संक्रामक थी, लेकिन इस बीच जो खास बात निकल कर सामने आई कि पहली लहर में संक्रमित हो चुके ज्यादातर लोग कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमित नहीं हुए।

किसान यूनियन नेताओं ने जंतर मंतर पर शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन का किया ऐलान

दूसरी लहर में संक्रमित हो चुके लोग तीसरी लहर में सुरक्षित?
ऐसे में दूसरी लहर में संक्रमित हो चुके लोगों को तीसरी लहर के दौरान पुन: संक्रमित होने के आसार बहुत कम है। जुगल किशोर के मुताबिक संक्रमण के आसार उन लोगों के लिए अधिक बन सकते हैं जो अब तक संक्रमित होने से बचे हुए हैं। यह काफी हद तक लोगों के व्यवहार पर भी निर्भर करेगा। कोरोना वैक्सीन की एक डोज 50% तक सुरक्षा दे सकती है। अगर दोनों डोज लगाएं तो 70 से 80% तक संक्रमण से सुरक्षित हो सकते हैं। 

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.