Friday, Feb 03, 2023
-->
schools from 9th to 12th will open in delhi from september 1 musrnt

दिल्ली में 1 सितंबर से खुलेंगे 9वीं से 12वीं तक के स्कूल, पैरेंट्स की मंजूरी जरूरी

  • Updated on 8/27/2021

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। दिल्ली में स्कूलों को फिर से खोलने का निर्णय लिया गया है। उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में शनिवार को हुई दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक में एक सितंबर से कक्षा 9 से लेकर 12वीं तक के स्कूलों को खोलने का निर्णय लिया गया है। जबकि 8 सितंबर से कक्षा 6 से लेकर 8वीं तक के स्कूलों खोलने का निर्णय लिया गया है। अभी प्राथमिक विद्यालयों पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। अभिभावकों की मंजूरी अनिवार्य होगी और बच्चों को स्कूल आने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा।

बता दें कि कोविड-19 के कम होते मामलों के बीच दिल्ली सरकार की विशेषज्ञ समिति ने अपनी रिपोर्ट में दिल्ली के सभी स्कूलों को चरणबद्ध तरीके से फिर से खोलने की सिफारिश की थी। समिति ने अपनी सिफारिशों में सरकार से पहले कक्षा 9 से 12वीं तक के स्कूलों को खोलने के लिए कहा था।

इसके बाद मिडिल स्कूलों और फिर आखिर में प्राथमिक विद्यालयों को खोले जाने के लिए कहा था। इस पर डीडीएमए ने अब फैसला ले लिया है। बता दें कि दिल्ली में लंबे समय से स्कूल बंद चल रहे थे।

दूसरे राज्यों की तर्ज पर स्कूलों काे फिर से खोलने की मांग उठने पर उपराज्यपाल अनिल बैजल ने गत छह अगस्त को डीडीएमए की बैठक में अधिकारियों को दिल्ली में स्कूलों को फिर से खोलने के लिए विस्तृत योजना तैयार करने वाली एक विशेषज्ञ समिति गठित करने का निर्देश दिया था। समिति की रिपोर्ट के बाद ही स्कूलों को खोलने का निर्णय लिया गया है।

पिछले साल मार्च में कोरोना के चलते राष्ट्रीय राजधानी में स्कूलों को बंद करने का आदेश दिया गया था। कई राज्यों ने पिछले साल अक्टूबर में स्कूलों को आंशिक रूप से फिर से खोलना शुरू कर दिया था, वहीं दिल्ली सरकार ने इस साल जनवरी में केवल 9वीं से 12वीं तक के छात्रों के लिए नियमित कक्षाओं की अनुमति दी थी। लेकिन महामारी की दूसरी लहर के दौरान संक्रमण के मामलों में वृद्धि के बाद फिर से कक्षाओं को स्थगित कर दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.