वैज्ञानिकों ने बनाया ऐसा उपकरण जो बिना बिजली के करेगा कूलिंग

  • Updated on 11/29/2018

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। वैज्ञानिक दिन प्रति दिन लगातार साइंस के जरिए दुनिया को विकसित करने के लिए आविष्कार करते रहते हैं। ऐसा ही एक आविष्कार बोस्टन के वैज्ञानिकों ने बिना बिजली के कूलिंग करने वाला उपकरण तैयार किया है। इस उपकरण से ऐसे लोगों को काफी फायदा होगा जो ऐसी जगह रहते हैं जहां बिजली की समस्या बनी रहती है।

बिजली या जीवाश्म ईंधन से उत्पन्न ऊर्जा के बिना ही चलने वाला यह उपकरण एमआईटी के वैज्ञानिकों ने विकसित किया है। इन वैज्ञानिकों में भारतीय मूल का भी एक वैज्ञानिक शामिल है। अनुसंधानकर्ताओं ने बताया कि इस प्रणाली में प्रकाश के मध्य इन्फ्रारेड स्तर पर ऊर्जा का उत्सर्जन होता है जो वायुमंडल से सीधे आगे बढ़ कर उसकी बाहरी सतह के ठंडी हवा में विकिरित हो जाती है।

'Shadi by Marriott' एक परफेक्ट शादी का एहसास, लखनऊ की एक यादगार शाम

इस पूरी प्रक्रिया के दौरान, ग्रीनहाउस गैसों की तरह आचरण करने वाली गैसों का प्रभाव बेअसर रहता है। सूर्य की सीधी रोशनी में गर्म होने से बचाने के लिए इस उपकरण के ऊपरी ब्लॉक्स में धातु की बनी एक पट्टी लगी रहती है जो सूर्य की सीधे पड़ने वाली किरणों को रोक देती है। इस उपकरण के बारे में जानकारी नेचर कम्युनिकेशन्स जर्नल में प्रकाशित हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.