Thursday, Mar 21, 2019

वैज्ञानिकों की बड़ी खोज, इस प्रणाली से पूरी की जा सकेगी पेयजल की कमी

  • Updated on 3/15/2019

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। वैज्ञानिकों ने एक महत्वपूर्ण खोज करते हुए नवीन सौर संचालित संचयन प्रणाली विकसित की है जो हवा की नमी को सोखती है और उसे स्वच्छ एवं उपयोग के योग्य जल में परिर्वितत करती है। यह शोध पत्रिका 'एंडवांस्ड मैटीरियल्स' में प्रकाशित हुआ है। 

इस प्रौद्योगिकी का उपयोग आपदा वाली स्थितियों, जल संकटों या गरीबी वाले इलाकों और विकासशील देशों में किया जा सकता है। यह प्रणाली हाइड्रोजेल, जेल-पॉलीमर हाइब्रिड सामग्री पर निर्भर करती है जो बड़ी मात्रा में पानी सोख सकते हैं। 

PM मोदी के फोटो वाले विज्ञापन कांग्रेस को भी नहीं भाए, EC से की शिकायत

अमेरिका के ऑस्टिन में टेक्सास विश्वविद्यालय के गुहुआ यू के नेतृत्व में शोधकर्ताओं ने हाइड्रोजेल का इस्तेमाल किया जो अत्यधिक जल सोखने और गर्म करने पर जल छोडऩे दोनों का काम करता है। 

शोधकर्ताओं ने कहा कि यह अनूठा मिश्रण नमी और गर्मी वाले मौसम में सफलतापूर्वक काम करता है और वायु से स्वच्छ, सुरक्षित पेयजल का उत्पादन करने में महत्वपूर्ण है।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए NT APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

comments

.
.
.
.
.